May 30, 2017

ताज़ा खबर

 

राहुल गांधी के बाद अब अगले महीने से प्रियंका गांधी करेंगी यूपी में चुनावी कैंपेन

पिछले विधान सभा चुनाव में जिन सीटों पर कांग्रेस पहले और दूसरे स्थान पर रही थी वो प्रियंका गांधी के कैंपेन के केंद्र में रहेंगी।

Author October 7, 2016 11:02 am
कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी। (PTI File Photo)

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की “किसान यात्रा” समाप्त होने के बाद उनकी बहन प्रियंका गांधी अगले महीने उत्तर प्रदेश में कैंपेन करने की तैयारी में हैं। यूपी में अगले साल विधान सभा चुनाव होने वाले हैं। प्रियंका यूपी में अपना कैंपेन इलाहाबाद में इंदिरा गांधी की जयंती 19 नवंबर पर आयोजिक एक कार्यक्रम से शुरू करेंगी। उसके बाद वो पूरे प्रदेश में होने वाली अलग-अलग बैठकों में हिस्सा लेंगी। अभी तक पार्टी ने प्रिंयका के कार्यक्रम की निश्चित तारीख और अन्य ब्योरे सार्वजनिक नहीं किया हैं लेकिन सूत्रों के अनुसार पिछले विधान सभा चुनाव में जिन सीटों पर कांग्रेस पहले और दूसरे स्थान पर रही थी वो प्रियंका की प्राथमिक सूची में होंगी।

सूत्रों के अनुसार हैदराबाद यूनिवर्सिटी के रिसर्च स्कॉलर रोहित वेमुला का मामला एक बार फिर सुर्खियों में आने के बाद राहुल और प्रियंका इस मुद्दे को पूरे प्रदेश में उठाएंगे। पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, “राहुल गांधी की यात्रा के बाद से पार्टी कार्यकर्ताओं में उत्साह है। इस दौरान किसानों का मुद्दा पर प्रमुखता से चर्चा में आया है। पार्टी इसके बाद यूपी में शांत नहीं बैठेगी। अब प्रियंका गांधी पूरे प्रदेश में कैंपेन करेंगी।” पहले पार्टी राहुल और प्रियंका दोनों को एक साथ कैंपेन में उतारना चाहती थी लेकिन बाद में ये विचार त्याग दिया गया। सूत्रों के अनुसार पारिवारिक जिम्मेदारियों के कारण वो लगातार चुनाव प्रचार नहीं कर सकतीं।

वीडियो: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने की पीएम नरेंद्र मोदी पर विवादित टिप्पणी-

2012 के विधान सभा चुनाव में कांग्रेस ने 355 सीटों पर प्रत्याशी उतारे थे। उसे 28 सीटों पर जीत मिली थी। 30 सीटों पर पार्टी दूसरे स्थान पर रही थी। पिछले कुछ महीनों में कांग्रेस के सात विधायक बीजेपी, बीएसपी और समाजवादी पार्टी में चले गए। प्रियंका अभी तक गांधी-नेहरू की पारंपरिक सीटों अमेठी, रायबरेली और उनसे जुड़े इलाकों में ही चुनाव प्रचार करती रही हैं। कांग्रेस ने यूपी चुनाव की तैयारी का जिम्मा चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर को सौंपा है।  राहुल की ‘किसान यात्रा’ की योजना किशोर ने ही बनाई थी। माना जाता है कि किशोर की सलाह पर ही कांग्रेस ने दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को यूपी में मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाया है ताकि ब्राह्मण वोटरों को पार्टी से दोबारा जोड़ा जा सके।

Read Also: मार्कण्डेय काटजू ने श्रवण कुमार का जिक्र कर ऐसे उड़ाया राहुल गांधी का मजाक,आगे लिखा-मेरठवासियों,देशद्रोह का मुकदमा मत दर्ज करवा देना

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 7, 2016 11:02 am

  1. No Comments.

सबरंग