ताज़ा खबर
 

जब कैश डिलिवरी वैन खुली तो फटी रह गई आंखें, निकलने लगे विदेशी शराब के कार्टन पर कार्टन

पुलिस के मुताबिक तस्कर इस गाड़ी से हरियाणा से शराब लेकर दरभंगा पहुंचा रहे थे। गाड़ी का नंबर भी हरियाणा का है।
पीएनबी के कैश वैन से 156 कार्टन विदेशी शराब यानी 1,404 बोतल शराब बरामद हुई।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भले ही शराबबंदी का राग अलापते हों और उसे सफल करार दे रहे हों लेकिन हकीकत यह है कि वहां शराब तस्करी बढ़ गई है। शराब माफिया रोज-रोज नए तरीके ढूंढ़कर शराब की तस्करी करने में जुटे हैं। उत्तरी बिहार के बड़े शहर दरभंगा में इस बार शराब माफिया पुलिस को फिल्मी अंदाज में चकमा देकर तसक्री कर रहे थे। माफिया जिस गाड़ी से शराब की तस्करी कर रहे थे वो गाड़ी कैश डिलिवरी वैन थी और उस पर लिखा था ऑन गवर्नमेंट ड्यूटी। इस गाड़ी पर पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) का लोगो भी चिपका था।

दरभंगा पुलिस को एक गुप्त सूचना मिली कि पीएनबी बैंक के एक कैश वैन से शराब की तस्करी हो रही है। पहले तो पुलिस को मामला फर्जी लगा लेकिन पुलिसवालों ने जब पड़ताल की इस कैश वैन का दरवाजा खुलवाया तो उनकी आंखें फटी रह गईं। गाड़ी से 156 कार्टन विदेशी शराब यानी 1,404 बोतल शराब बरामद हुई। पुलिस ने मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। हालांकि, कुछ लोग पुलिस को चकमा देकर भागने में सफल रहे।

पुलिस के मुताबिक तस्कर इस गाड़ी से हरियाणा से शराब लेकर दरभंगा पहुंचा रहे थे। गाड़ी का नंबर भी हरियाणा का है। पुलिस अब इस गाड़ी की जांच कर रही है साथ ही यह पता लगाने में जुट गयी है कि शराब तस्कर कब से और किसके लिए यह काम कर रहे थे।

पहली नजर में तो कोई भी पुलिस वाला पंजाब नेशनल बैंक की कैश वैन समझ कर इस गाड़ी को हाथ नहीं लगा रहा था। अगर कहीं गाड़ी रोकी भी गई तो कैश वैन समझकर बिना चेकिंग के ही उसे छोड़ दिया जाता था। हरियाणा से दरभंगा का रास्ते में कई जगह तो गाड़ी को पुलिस वालों ने आगे बढ़ने में मदद भी की ताकि समय पर कैश पहुंचे ताकि नकदी का संकट झेल रहे लोगों को समय पर पैसा पहुंचाया जा सके।

वीडियो देखिए- परमाणु क्षमता से लैस मिसाइल अग्नि-5 का परीक्षण, 5000 किमी तक मार कर सकती है

वीडियो देखिए- अगस्ता वेस्टलैंड चॉपर केस में पूर्व वायुसेना प्रेमुख एसपी त्यागी के सीबीआई ने दी जमानत

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.