December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

उत्तरप्रदेश: वाराणसी पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी, गाजीपुर में रेलवे लाइन की नींव रखी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार (14 नवंबर) की सुबह वाराणसी पहुंचे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तरप्रदेश में प्लेन से उतरते हुए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार (14 नवंबर) की सुबह वाराणसी पहुंचे। वह वहां गाजीपुर जाएंगे। वहां वह गंगा नदी के ऊपर बनने वाली रेलवे लाइन और पुल के निर्माण कार्य की नींव रखेंगे। गौरतलब है कि वाराणसी पीएम मोदी का संसदीय क्षेत्र भी है। 500-1000 के नोट बंद होने के बाद आदर्श ग्राम योजना के तहत अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के जिस गांव जयापुर को गोद लिया था रविवार से वह भी चर्चा में है। उस गांव के लोग भी 500-1000 के नोटबंदी के सरकार के आदेश से परेशान हैं। मसलन, उसे बदलवाने के लिए लोगों ने चप्पल से लाइन लगाई है। लाइन में खुद खड़े न होकर लोगों ने चप्पलों को लाइन में लगी दिया है। लोगों ने चप्पल पर अपने नाम की स्लिप भी लगा रखी है ताकि कोई गलतफहमी न हो।

रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गोवा ने मोपा ग्रीनफील्‍ड एयरपोर्ट का शिलान्‍यास करने के लिए गए थे। वहां वह लोगों को संबोधित करते हुए भावुक हो गए थे। पीएम ने कहा कि उन्होंने घर-परिवार, सब देश के लिए छोड़ दिया। पीएम ने आगे कहा कि उन्हें जनता से 30 दिसंबर तक का वक्त चाहिए उसके बाद देश उन्हें जो सजा देगा उन्हें मंजूर होगी। कार्यक्रम में मोदी ने राहुल गांधी पर भी निशाना साधा। मोदी ने कहा था, ‘जिन लोगों ने 2जी स्कैम, कोयला घोटाला किया उन्हें अब 4000 रुपए बदलने के लिए लाइन में खड़ा होना पड़ता है।’ मोदी ने आगे कहा कि वह सबकुछ गरीब लोगों के लिए कर रहे हैं। मोदी ने लोगों से कहा कि उन्हें 50 दिनों के लिए उनका साथ चाहिए। मोदी ने गंगा नदी में नोट मिलने की खबरों का भी जिक्र किया। पीएम बोले, ‘जो लोग पहले चवन्नी गंगा में नहीं डालते थे अब 500-1000 के नोट वहां डाल रहे हैं।’ अपने भाषण के अंत में मोदी ने कहा, ‘कैसे-कैसी ताकतों से मैंने लड़ाई मोल ली है मैं जानता हूं। वे मुझे जिंदा नहीं छोड़ेंगे। मुझे बर्बाद कर देंगे। आप लोग 50 दिन मेरी मदद करें।’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 नंवबर की रात को 500-1000 के नोट बंद होने का ऐलान लाइव टीवी पर किया था। नोट बंद होने के ऐलान के बाद से लोगों में जल्दी से जल्दी  पुराने नोट से पीछा छुटाने की होड़ सी लग गई। इस वजह से बैंकों और एटीम के बाहर लगी लाइन खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 14, 2016 11:27 am

सबरंग