ताज़ा खबर
 

ओडिशा: पुलिस ने आठ हथियारबंद लोगों से जब्त किए 1.4 करोड़, 85 लाख रुपए से ज्यादा के निकले नए नोट

पुलिस ने इससे पहले कर्नाटक के उडुप्पी में भी 71 लाख रुपए की नई करेंसी जब्त की थी।
Author December 4, 2016 20:40 pm
पुलिस ने गिरफ्तार किए गए लोगों से हथियार भी बरामद किए हैं। ( Photo Source: ANI)

ओडिशा में पुलिस ने आठ हथियारबंद लोगों से 14,291,000 रुपए जब्त किए हैं। जब्त की गई रकम में 8,562,000 नए नोट शामिल हैं। पुलिस ने इन लोगों को संबलपुर में गिरफ्तार किया है। बता दें, शनिवार को कर्नाटक के उडुप्पी में भी 71 लाख रुपए की नई करेंसी जब्त की थी। हिन्दू अखबार में छपी खबर के मुताबिक पुलिस को मुखबिर ने इसकी सूचना दी थी। इसके बाद पुलिस ने उडुप्पी सर्किल इन्स्पेक्टर जॉय एंथोनी के नेतृत्व में उडुप्पी-करकला रोड पर सघन छापेमारी कर रकम की जब्ती की।

गुरुवार की शाम सात बजे के करीब पुलिस ने गाड़ियों की तलाशी अभियान की शुरुआत की थी। थोड़ी ही देर बाद भूरे रंग की एक कार को संदेह के आधार पर रोका। वहां पुलिस ने 2000 रुपये के नए करेंसी नोट के कुल 71 लाख रुपये बरामद किए। इससे पहले भी कर्नाटक में ही आयकर अधिकारियों ने बेनामी 6 करोड़ रुपये बरामद किए थे। इनमें से 5.7 करोड़ रुपये नई करेंसी नोट थे। तीनों को गिरफ्तार करके जांच के लिए आयकर अधिकारियों को सौंप दिया गया।

पुलिस ने बताया कि पुलिस ने एक दिसंबर को एक कार रोकी थी। कार में एक बैग था, जिससे दो हजार रुपए के नोट वाली 71 लाख रुपए की नकदी बरामद की गई। नकदी के साथ पकड़े गये व्यक्तियों की पहचान इमरान हाशमी, आसिफ उमर और चालक दीपक शेट्ठी के रूप में हुई है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरोपी नकदी के लिए वैध दस्तावेज दिखाने अथवा इसका ब्यौरा नहीं बता पाए। उन्होंने बताया कि यह लोग कारोबारी भुगतान के लिए मेंगलुरू से कुद्रेमुख जा रहे थे।

आयकर विभाग के करीब 50 अधिकारियों ने देशव्यापी अभियान के तहत बेंगलुरू, चेन्नई और इरोड़ (तमिलनाडु) के कई ठिकानों में छापेमारी की है। विभाग ने बताया कि इस छापेमारी में पांच करोड़ रुपए से ज्यादा की नई नकदी पकड़ी गई है।

वीडियो में देखें- नोटबंदी के बाद हैदराबाद से पकड़े गए 95 लाख, बेंगलुरु से 4.7 करोड़; ज़्यादातर नोट 2000 के

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग