ताज़ा खबर
 

NIT(C) हॉस्टेल की छात्राओं के लिए जारी हुआ था तुगलकी फरमान, लड़को के साथ घूमने पर निष्कासित करने की थी धमकी

नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोल्जी(कलिकट) में हॉस्टेल की छात्राओं को लड़को के साथ घूमने पर निष्कासित करने का फरमार कड़ी आलोचना वापिस लिया गया।
एनआईटी (सी) का गर्ल्स हॉस्टेल। (Source: nitc.ac.in)

केरल के नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोल्जी(कलिकट) में गर्ल्स हॉस्टेल की छात्राओं के लिए एक अजीब-ओ-गरीब तुग्लकी फर्मान जारी किया था जिसकी कड़ी आलोचना होने के बाद उसे वापिस ले लिया गया है। खबरों के मुताबिक हॉस्टेल के नोटिस में यह जानकारी थी कि अगर लड़कियां कॉलेज के लड़कों के साथ हॉस्टेल कैंपस में घूमती हुई नजर आईं तो उन्हें हॉस्टेल से निकाला भी जा सकता है।

बीते मंगलवार को यह नोटिस हॉस्टेल के वार्डन एस. भुवनेशवर द्वारा नोटिस बोर्ड पर लगाया गया था जिसकी बाद में कड़ी आलोचना होने के बाद बोर्ड से हटा लिया गया। इस नोटिस पर छात्रों ने बड़े पैमाने पर सोशल मीडिया पर भी विरोध किया था जिसके बाद विवाद बढ़ता हुआ देख कर नोटिस हटाया गया।

वहीं इंस्टिट्यूट के इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट के प्रफेसर पॉल जोसेफ ने ऐसे किसी तरह के नोटिस लगने की बात को दुखद घटना बताया। उन्होंने कहा कि सवाल उठाते हुए कहा कि आखिर हमारा समाज किस दिशा में जा रहा है ? कुछ लोग समाज में हो रहे बदलावों को कभी नहीं समझ सकते।

उन्होंने चेताया कि हॉस्टेल प्रशासन को किसी छात्रा को निकालने दीजिए फिर मैं देश के एक नागरिक के तौर पर ऐसे किसी मामले में दखल दूंगा। वहीं कुछ छात्रों ने भी ऐसी घटना को सोशल मीडिया पर खूब विरोध किया था। कुछ ने फेसबुक और ट्विटर पर नोटिस की कॉपी को खूब वायरल किया जिसके बाद इसे वापिस लिया गया। वहीं अभी तक यह जानकारी नहीं मिल पाई है कि यह नोटिस किसकी अनुमती से लगाया गया था।

देखें नोटिस की कॉपी (Source: Twitter @abhimanyuma)

वीडियो: झारखंड विधानसभा में स्‍पीकर पर फेंका गया जूता, जमकर चलीं कुर्सियां

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग