April 28, 2017

ताज़ा खबर

 

काशी के घाट पर जी20 देशों के नेता करेंगे वित्तीय और आर्थिक नीतियों पर चर्चा

सरकार को पूरा विश्वास है कि वाराणसी में होने जा रही यह मीटिंग बहुत ही कामयाब साबित होगी।

पिछले ढाई साल से यहां के सभी घाटों की सफाई और उनके परिवर्तन का काम किया जा रहा है।

अगले हफ्ते होने वाली जी20 आर्थिक और वित्तीय नीति सम्मेलन का आयोजन इस बार देश की धार्मिक नगरी वाराणसी के घाट पर किया जा रहा है। इसमें शामिल देशों के 20 सदस्य मिलकर कई विषयों पर बातचीत करेंगे। मोनेटरी फंड, वर्ल्ड बैंक, आईसीडी और एशियाई विकास बैंक इस मीटिंग में शामिल होंगे। वाराणसी के घाट पर होने वाली यह मीटिंग एक नए अवतार में दिखाई देगी। इससे पहले भारत ने जी20 मीटिंग का आयोजन गोवा में किया था जो कि एक पर्यटन स्थल है। वाराणसी को लोग भोले की नगर काशी के नाम से भी जानते हैं।  काशी में हो रहे विकास के बाद यह शहर देश का सबसे महत्वपूर्ण लोकसभा क्षेत्र बन गया है।

सरकार को पूरा विश्वास है कि वाराणसी में होने वाली यह मीटिंग बहुत ही कामयाब साबित होगी। घाट के पास बने गेटवे होटल में 28 और 29 मार्च को यह मीटिंग होगी। इसका उद्घाटन आर्थिक मामलों के केंद्रीय सचिव शक्तिकांत दास करेंगे। इसके लिए शहर की सड़कों, प्रचीन स्थलों व अन्य जगहों को साफ करने और दुरुस्त करने का काम किया जा रहा है। आर्थिक चुनौतियों पर आयोजित इस दो दिवसीय मीटिंग में जी- 20 सदस्यों के अलावा कई देशों के सौ से भी ज्यादा बड़े पदाधिकारियों के शामिल होने की बात कही जा रही है। बता दें कि जी20 बीस वित्त मंत्रियों और बैंक के गवर्नर का एक ग्रुप है जिसकी स्थापना 1999 में हुई थी।

आपको बता दें कि वाराणसी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का लोकसभा चुनाव क्षेत्र है जिसके कारण स्वच्छ भारत अभियान के जरिए जमीनी स्तर पर होने वाले कामों में मोदी अपनी काफी रुची दिखाते हैं। पिछले ढाई साल से यहां के सभी घाटों की सफाई और उनके परिवर्तन का काम किया जा रहा है। मोदी ने यूपी विधानसभा चुनावों के समय यहां पर तीन दिन गुजारे थे और यहां चल रहे कामों का जायजा भी लिया था।

 

देखिए वीडियो - 6 साल के बच्चे के अंदर मरा हुआ भ्रूण मिला, वीडियो देखें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on March 24, 2017 2:36 pm

  1. No Comments.

सबरंग