May 30, 2017

ताज़ा खबर

 

दिल्ली में आप की रुचि नहीं : योगेंद्र यादव

निगम चुनाव लड़ने का स्वराज इंडिया ने जताया इरादा, 200 वार्डों में अपनी मौजूदगी का किया दावा।

Author नई दिल्ली | October 13, 2016 02:17 am
गांधी जयंती पर योगेंद्र यादव के नेतृत्व में आयोजित होगी संवेदना यात्रा

नई पार्टी स्वराज इंडिया ने घोषणा की है कि वह एमसीडी चुनाव लड़ना चाहती है और दावा किया कि उसकी 200 वार्डों में मौजूदगी है। पार्टी के अध्यक्ष योगेंद्र यादव ने कहा कि वे दिल्ली एमसीडी चुनाव लड़ने पर सक्रियता से विचार कर रहे हैं। भ्रष्टाचार के खिलाफ आंदोलन के उनके कुछ बहुत ही अच्छे कार्यकर्ता दिल्ली से आते हैं। उनके कार्यकर्ताओं का सबसे अधिक आधार दिल्ली में है।  स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेंद्र यादव का कहना है कि दिल्ली के शासन में आम आदमी पार्टी की रुचि नहीं रही है। यादव ने दिल्ली सरकार का केंद्र के साथ लगातार टकराव होने के बीच बुधवार को आप पर यह कहते हुए जोरदार हमला बोला कि राजधानी के शासन में उसकी ‘न्यूनतम रुचि’ है और वह दिल्ली का इस्तेमाल अन्य राज्यों में प्रभाव जमाने के लिए कर रही है। आम आदमी पार्टी के संस्थापकों में शामिल और एक समय में आप के एक प्रमुख विचारक और अब पिछली दो अक्तूबर को स्थापित स्वराज इंडिया के अध्यक्ष यादव ने जोर देकर कहा कि आम आदमी पार्टी का ध्यान बाहर है और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दिल्ली के संसाधनों और उसके महत्त्व का इस्तेमाल अपनी पार्टी का प्रभाव विस्तारित करने के लिए कर रहे हैं। ऐसा करके उन्होंने दिल्ली के नागरिकों को मंझधार मेें डाल दिया है।

पिछले साल पार्टी विरोधी गतिविधियों के लिए आप से निष्कासित किए गए यादव ने केजरीवाल, आप मंत्रियों और विधायकों की आलोचना ऐसे समय में की जब वे अक्सर दिल्ली से बाहर रहे, जब दिल्ली वेक्टर जनित बीमारियों से जूझ रही है। यादव ने कहा कि आप सरकार दिल्ली का इस्तेमाल मात्र आगे बढ़ने के लिए कर रही है। वे मूल रूप से दिल्ली के संसाधनों और महत्त्व का इस्तेमाल पंजाब, गोवा में प्रभाव जमाने के लिए कर रहे हैं। यादव ने दिल्ली हाई कोर्ट के उस फैसले का जिक्र किया जिसमें उसने उपराज्यपाल को दिल्ली का प्रशासनिक प्रमुख बताया था। उन्होंने कहा कि उस आदेश के बाद आम आदमी पार्टी की दिल्ली के शासन में रुचि खत्म हो गई है।उन्होंने आम आदमी पार्टी के दिल्ली शासन मॉडल पर हमला बोला और कहा कि आम आदमी पार्टी प्रचार को लेकर नासमझ है और अक्सर अपने ही दावे को काटती है। उन्होंने कहा कि आप दो चीजें एक ही समय पर नहीं कह सकते। आप यह नहीं कह सकते कि मेरे पास पुलिस और जमीन नहीं है और मैं कुछ भी नहीं कर सकता और उसके बाद आप कहते हैं कि आपने दिल्ली को बदल दिया है, यह दिल्ली का शासन मॉडल है और इसे सभी को अपनाना चाहिए।

यह पूछे जाने पर कि उनकी पार्टी पंजाब विधानसभा चुनाव क्यों नहीं लड़ना चाहती, उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी एक ‘वोट कटवा’ नहीं बनना चाहती। यादव ने कहा कि उनकी पार्टी आप के बागी सांसद धर्मवीर गांधी के राजनीतिक मोर्चे का समर्थन करेगी। उन्होंने कहा कि केवल इसलिए कि हमने एक राजनीतिक पार्टी का गठन किया है, इसका यह मतलब नहीं कि हम हर जगह चुनाव लड़ेंगे।उन्होंने केजरीवाल पर उनके उस ट्वीट के लिए हमला बोला जिसमें उन्होंने कहा है कि दिल्ली हाई कोर्ट के आदेश के बाद वे एक कलम भी नहीं खरीद सकते। यादव ने यह दावा करते हुए केजरीवाल पर निशाना साधा कि उसके बाद उन्होंने 600 फॉगिंग मशीनें खरीदने का आदेश दिया। दिल्ली में वेक्टर जनित बीमारियां फैलने का जिक्र करते हुए यादव ने भाजपा और केंद्र पर भी हमला बोला। दिल्ली में शासन के लिए जिम्मेदार सभी ताकतों ने उसे छोड़ दिया है। यादव ने कहा कि दिल्ली में शासन की पूरी तरह से कमी है। दिल्ली सरकार, उपराज्यपाल कार्यालय, डीडीए दिल्ली में वर्तमान समय में कोई शासन नहीं है।

 

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 13, 2016 2:17 am

  1. No Comments.

सबरंग