ताज़ा खबर
 

ट्रेन में भीड़ द्वारा जुनैद की हत्या पर बोले रविशंकर प्रसाद- घटना शर्मनाक और दर्दनाक, सरकार दोषियों को छोड़ेगी नहीं

गुरुवार (22 जून) को दिल्ली-पलवल ट्रेन में भीड़ ने बीफ के शक में 16 साल के जुनैद की हत्या कर दी।
New Delhi: Union ministers Arun Jaitley, Ravi Shankar Prasad and Dharmendra Pradhan during an Eid Milan programme hosted by Minister of State Mukhtar Abbas Naqvi (R) at his residence in New Delhi on Monday. (PTI Photo by Subhav Shukla)

केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने दिल्ली-पलवल पैसेंजर ट्रेन में 16 साल के जुनैद की भीड़ द्वारा की गई हत्या को बेहद शर्मनाक और दर्दनाक करार दिया है। ईद के दिन उन्होंने कहा कि सरकार जुनैद के हत्यारों को नहीं बख्शेगी। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मामले की जांच जारी है और गुनहगारों का सुराग देने वालों को ईनाम देने की भी घोषणा कर दी गई है। एनडीटीवी से बातचीत में रविशंकर प्रसाद ने कहा, “यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि इस घटना को उस व्यक्ति ने अंजाम दिया जो नशे में चूर है। हमारी सरकार यह बर्दाश्त नहीं करेगी।”

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि सरकार ने बहुत ही साफ शब्दों में कह दिया है कि अगर कोई हिंसा में शामिल रहता है तो कानून अपना काम करेगा। अगर कोई किसी का मर्डर करता है तो कानून के तहत उसे सख्त सजा दी जाएगी। उसे या तो मौत की सजा मिल सकती है या आजीवन कारावास हो सकती है। इसलिए जरूरत है कि ईमानदारी पूर्वक कानून का पालन किया जाय। प्रसाद ने कश्मीर के श्रीनगर में मस्जिद के बाहर भीड़ द्वारा एक पुलिस अधिकारी (डीएसपी) की पीट-पीटकर हत्या की भी निंदा की।

शाकिर को पांच बार चाकू मारा गया जिसमें से एक उसकी छाती पर लगा।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि प्रधाननंत्री नरेंद्र मोदी पहले ही कह चुके हैं को जो लोग गौरक्षा के नाम पर किसी की जान लेने को आतुर हैं, वो पहले उन्हें मारें। बता दें कि पीएम मोदी ने पिछले साल ही लोगों से इस तरह की हिंसा नहीं करने और ऐसे हिंसक लोगों के खिलाफ खड़े होने की अपील की थी। बावजूद इसके गौरक्षा के नाम पर लोगों की हत्या थमने का नाम नहीं ले रही है।

गौरतलब है कि गुरुवार (22 जून) को दिल्ली-पलवल ट्रेन में भीड़ ने बीफ के शक में 16 साल के जुनैद की हत्या कर दी। इससे पहले भीड़ ने उस किशोर पर पहले तंज मारा फिर टोपी फेंकी, उसके साथी की दाढ़ी खींची और फिर चाकुओं से हमला कर दिया। इतना ही नहीं चलती ट्रेन से उसे नीचे फेंक दिया। इससे उसकी मौत हो गई। जुनैद अपने भाई और दो अन्य दोस्तों के साथ ईद की खरीददारी कर दिल्ली से लौट रहा था। बीफ की अफवाह के बीच करीब 10-12 लोगों ने उनपर चाकू से हमला कर दिया जिसमें जुनैद की मौत हो गई और उसके दो भाई हाशिम और शाकिर गंभीर रूप से घायल हो गए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग