ताज़ा खबर
 

दिल्ली पहुंचे भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पार्टी नेताओं पर भड़के, कहा- गुटबाजी में ना पड़े नेता, मतदाताओं से करें मुलाकात

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने दिल्ली प्रवास के पहले दिन एनडीएमसी कन्वेंशन सेंटर में बारी-बारी से अलग-अलग सत्रों में दिल्ली पार्टी नेताओं से मुलाकात की।
भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह। (फाइल फोटो)

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने दिल्ली प्रवास के पहले दिन एनडीएमसी कन्वेंशन सेंटर में बारी-बारी से अलग-अलग सत्रों में दिल्ली पार्टी नेताओं से मुलाकात की। इस दौरान राष्ट्रीय अध्यक्ष ने केंद्र के नेतृत्व में जीते गए एमसीडी चुनाव के बाद आराम से बैठे पार्टी नेताओं को जमकर फटकार लगाई। शाह ने कहा कि एमसीडी चुनाव में जीत मिलने के बाद दिल्ली इकाई के नेता आराम से ना बैठे बल्कि जनता के बीच जाएं। उन्होंने पार्टी नेताओं को अगले विधानसभा चुनाव के लिए 51 फीसदी मत हासिल करने का लक्ष्य दिया। भाजपा अध्यक्ष ने आगे कहा कि पार्टी नेता आपसी गुटबाजी खत्म करे और संगठन को मजबूत करने की ओर ध्यान दें। साथ ही दिल्ली भाजपा सांसदों को केंद्र की योजनाएं जनता के बीच ले जाने की सलाह दी। सूत्रों के अनुसार दूसरी मीटिंग शनिवार (15 जुलाई, 2017) को दिल्ली भाजपा मुख्यलाय में होगी। जानकारी के लिए बता दें कि एमसीडी चुनाव के बाद ऐसा पहली बार है जब अमित शाह ने औपचारिक तौर पर पार्षदों से रूबरू मुलाकात की।

शुक्रवार को मीटिंग में अमित शाह ने कहा कि दिल्ली में कुछ नेताओं का गुट जिम्मेदारी के साथ काम नहीं कर रहा है। उन्होंने कहा कि जो भी ये कर रहे हैं वो रामलाल और वित्त मंत्री अरुण जेटली को खुश करने की कोशिश कर रहे हैं। इनमें से कोई भी आम जनता के बीच समय व्यतीत नहीं कर रहा है। पार्टी सूत्रों के मुताबिक अमित शाह ने विस्तारक योजना के प्रति भी अपनी नाराजगी जाहिर की। दिल्ली भाजपा नेता के अनुसार दिल्ली के 13 हजार बूथ मतदातों में से करीब 60 फीसदी पर पार्टी ने पकड़ बना ली है। साथ ही पार्टी ने इस बार करीब 1.5 लाख नए पार्टी सदस्यों को जोड़ने की बात कही। भाजपा नेता के अनुसार अमित शाह ने इस दौरान दिल्ली त्रिशंकु विधानसभा को देखते हुए हर हाल में 41 फीसदी मत हासिल करने पर जोर दिया। जबकि 51 फीसदी मत हासिल करने का लक्ष्य रखा गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग