December 04, 2016

ताज़ा खबर

 

नई दिल्ली: दामाद ने गोली मारकर ली सास की जान

निशा की बेटी चांदनी की शादी रमन बेनीवाल से दस साल पहले हुई थी। दोनों ने प्रेम विवाह किया था और उनकी दो बेटियां हैं।

Author October 24, 2016 02:52 am
प्रतीकात्मक फोटो

उत्तर-पश्चिमी दिल्ली के भारत नगर इलाके में एक शख्स ने अपनी सास की गोली मारकर हत्या कर दी है। आरोपी की पहचान रमन बेनीवाल के रूप में हुई है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है। पुलिस अधिकारी के मुताबिक, 55 साल की निशा महेंद्रू अपने पति प्रदीप और बेटे राहुल के साथ राणा प्रताप बाग इलाके में रहती थीं। परिवार का इलाके में ही बुटीक का कारोबार है। निशा की बेटी चांदनी की शादी अशोक विहार निवासी रमन बेनीवाल से दस साल पहले हुई थी। दोनों ने प्रेम विवाह किया था और उनकी दो बेटियां हैं। शादी के कुछ साल बाद ही चांदनी का पति से झगड़ा होने लगा। पेशे से प्रॉपर्टी डीलर रमन को लगता था कि उसकी सास ही चांदनी को भड़का रही है। इसलिए उसकी गृहस्थी तबाह हो रही है।

पुलिस के मुताबिक शनिवार रात करीब 11 बजे वह अपनी ससुराल आया और पत्नी व बेटी को ले जाने की जिद करने लगा। इस पर निशा ने उसे रोका और दोनों में झगड़ा होने लगा। तभी रमन ने अपनी लाइसेंसी रिवॉल्वर से सास को गोली मार दी और फरार हो गया। चांदनी ने पुलिस को फोन कर घटना की सूचना दी। पुलिस हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश कर रही है। पुलिस ने आरोपी की तलाश के लिए पश्चिमी उत्तर प्रदेश के विभिन्न इलाकों में टीमें भेजी हैं। चांदनी का कहना है कि उसका पति आए दिन शराब पीकर उसके साथ मारपीट करता था और उसके चरित्र पर भी शक करता था। वह अपनी दो बेटियों के साथ तीन महीने से अपनी मां के पास रह रही थी।

फाइनेंसर की हत्या

गीता कालोनी इलाके में रविवार को बदमाशों ने एक फाइनेंसर के कार्यालय पर ताबड़तोड़ गोलियां चलार्इं। इसमें फाइनेंसर के साथी 36 साल के वीनू पंडित की मौत हो गई। पुलिस सीसीटीवी फुटेज के जरिए बदमाशों की पहचान कर रही है। पुलिस उपायुक्त ऋषिपाल का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। जल्द ही आरोपियों को पकड़ लिया जाएगा। बताया जा रहा है कि फाइनेंसर आकाश चौहान का गीता कालोनी में कार्यालय है। शाम को पौने छह बजे आकाश अपने साथी वीनू पंडित और अन्य लोगों के साथ कार्यालय में बैठे थे। तभी मोटरसाइकिल पर वहां पहुंचे चार बदमाशों ने बाहर से ही गोली चलानी शुरू कर दी। गोलियां अंदर बैठे वीनू पंडित को लगीं। इसी दौरान आकाश चौहान और अन्य अपनी जान बचाकर वहां से भागने में कामयाब रहे।

बदमाशों ने कार्यालय में घुसकर भी वीनू पंडित को गोलियां मारीं। वीनू को पांच गोलियां लगी हैं। इसके बाद बदमाश मौके से फरार हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने वीनू को मैक्स अस्पताल में भर्ती कराया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने आशंका जताई है कि आपसी रंजिश या फिर लेनदेन के विवाद को लेकर इस वारदात को अंजाम दिया गया है। लूटपाट सहित कई अन्य बिंंदुओं से मामले की जांच की जा रही है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 24, 2016 2:52 am

सबरंग