ताज़ा खबर
 

संसद की कैंटीन में फिर बढ़ सकते हैं खाने-पीने की चीज़ों के दाम

लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने दरों की समीक्षा का आदेश दिया था, जो छह साल बाद किया गया था।
Author नई दिल्ली | October 2, 2016 22:36 pm
संसद भवन( Express photo)

संसद की कैंटीन में खाने-पीने की चीजों के दाम एक बार फिर बढ़ सकते हैं और खानपान की वस्तुओं को दी जाने वाली सब्सिडी और दरों पर सदन की एक समिति विचार कर रही हैं। लोकसभा अध्यक्ष ने राज्यसभा के सभापित के साथ विमर्श कर खाद्य प्रबंधन पर संयुक्त समिति पुनर्गठित की है जिसमें ‘संसद भवन परिसर स्थित रेलवे खान-पान इकाइयों में मिलने वाली खाने-पीने की चीजों की दरों की समीक्षा पर विचार करना’ भी शामिल है। निम्न सदन के बुलेटिन के अनुसार समिति संसद भवन में इन इकाइयों के संचालन के लिए सब्सिडी के स्तर पर भी विचार करेगी। जितेंद्र रेड्डी इस समिति के प्रमुख हैं और इसमें 15 सदस्य हैं। इन सदस्यों में निचले सदन से 10 और उच्च सदन से पांच सदस्य हैं।

यह कदम काफी मायने रखता है क्योंकि खुले बाजार में महंगाई के समय संसद में मिलने वाली खाने-पीने की चीजों पर सब्सिडी को लेकर हुई अत्यधिक आलोचना के बाद इस साल जनवरी में दरें बढ़ाई गई थीं। लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने दरों की समीक्षा का आदेश दिया था, जो छह साल बाद किया गया था। उस समय उन्होंने कहा था कि समय-समय पर दरों की समीक्षा की जाएगी। तदनुसार, जो शाकाहारी थाली पहले 18 रुपए में मिलती थी, वह अब 30 रुपए में मिलती है। जो मांसाहारी थाली पहले 33 रुपए की थी, वह अब 60 रुपए में बेची जा रही है। जो चिकन करी पहले 29 रुपए में मिलता था, वह अब 40 रुपए में मिलता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 2, 2016 10:35 pm

  1. No Comments.