ताज़ा खबर
 

मुहर्रम पर दिल्ली में बढ़ाई गई सुरक्षा, कई रूटों पर यातायात पर रोक

Muharram 2016: मुहर्रम हजरत इमाम हुसैन और इस्लाम धर्म के पैगंबर हजरत मोहम्मद के नवासे इमाम हुसैन की शहादत की याद में मनाया जाता है।
Author नई दिल्ली | October 12, 2016 16:01 pm
ताजिया में हिस्सा लेते दो बच्चे। (IndianExpress/File)

मुस्लिम समुदाय बुधवार को मुहर्रम मना रहे हैं। यह त्योहार हजरत इमाम हुसैन और इस्लाम धर्म के पैगंबर हजरत मोहम्मद के नवासे इमाम हुसैन की शहादत की याद में मनाया जाता है। मुहर्रम मुसलमानों का मातमी त्यौहार है। सातवीं शताब्दी में पैग़ंबर मुहम्मद के नवासे इमाम हुसैन कर्बला की जंग में मारे गए थे। इसके बाद से उनकी याद में यह त्योहार मनाया जाता है। मुहर्रम को ध्यान में रखते हुए देश की राजधानी दिल्ली में सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत किया गया। कई जगहों पर रूट्स भी बदल गए हैं। वहीं कई जगहों पर अर्द्धसैनिक बलों की टुकड़ियों को तैनात किया गया है।

वीडियो में देखें- हनुमान का किरदार निभाने वाले की उंचाई से गिरने से मौत

शनिवार को त्रिलोकपुरी में पत्थरबाजी हो गई थी। इसके बाद वहां पर अर्द्धसैनिक बल की पांच टुकड़िया तैनाय की गई हैं। यहां पर अर्द्धसैनिक 16 अक्टूबर को होने वाली वाल्मिकी जयंति तक तैनात रहेंगे। इस इलाके में साल 2014 में दिवाली के वक्त सांप्रदायिक हिंसा हो गई थी। इसके बाद यहां एक महीने तक कर्फ्यू लगा रहा था। पुलिस ने इसके साथ ही दिल्ली के कई इलाकों के रूट्स बदले हैं। पुलिस ने बुधवार शाम तक कई रूट्स बंद भी कर दिए हैं। इनमें मटिया महल चौक, जामा मस्जिद, चावरी बाजार, चौक हौज काजी, अजमेरी गेट, पहाड़गंज पुल, नई दिल्ली रेलवे स्टेशन, चेम्सफोर्ड रो़ड़, कनॉट प्लेस, पार्लियामेंट स्ट्रीट, रेड क्रॉस रोड़, रायसीना रोड, विजय चौक, कृष्ण मेनन मार्ग, तुगलक रोड़, अरबिंदो मार्ग, जोर बाग और लोधी कॉलोनी को आम लोगों के लिए बंद कर दिया गया है।

Read Also: Video: रामलीला में हनुमान बना था 61 साल का धन्नाराम, 50 फीट ऊंचाई से गिरकर हुई मौत

पुलिस नई दिल्ली रेलवे स्टेशन जाने वाले यात्रियों को सलाह दी है कि वे ट्रेन पकड़ने के लिए अपने घर से जल्दी निकलें। इसके साथ ही स्टेशन पहुंचने के लिए यात्रियों को क्नॉट प्लेस वाले रूट को पकड़ने से मना किया है। पुलिस ने कहा है कि नई दिल्ली रेलवे स्टेशन जाने के लिए अजमेरी गेट की तरफ से पहुंचा जा सकता है। यहां तिलक मार्ग, दीन दयाल उपाध्याय मार्ग, राजघाट और जवाहर लाल नेहरू मार्ग के जरिए पहुंचा जा सकता है। कई रूट्स पर अर्द्धसैनिक बलों को इन रूट्स पर तैनात किया गया है। इसके साथ ही स्थानीय पुलिस भी मुस्तैद है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग