March 24, 2017

ताज़ा खबर

 

राजधानी में डेंगू के मामले 2100 के पार: दिल्ली नगर निगम

दक्षिण दिल्ली नगर निगम ने शहर में सभी नगर निकायों की ओर से मच्छर जनित बीमारियों की रिपोर्ट तैयार की है।

Author नई दिल्ली | October 4, 2016 04:59 am
डेंगू।

राजधानी में डेंगू के मामलों की संख्या 2,100 का आंकड़ा पार कर गई है हालांकि पिछले साल अकेले सितंबर में यह आंकड़ा 6,775 था। नगर निगम की ओर से सोमवार को जारी एक सूचना के मुताबिक एक अक्तूबर तक 2,133 डेंगू के मामले सामने आए हैं। इसमें से 1,362 पिछले महीने दर्ज किए गए थे और 441 मामले पिछले सप्ताह दर्ज किए गए हैं। विभिन्न अस्पतालों में डेंगू के कारण 21 लोगों की मौत हुई थी। इनमें नौ मौतें का आंकड़ा अकेले एम्स का था, हालांकि नगर निकायों के अनुसार इस बीमारी के कारण केवल चार लोगों की मौत हुई है।
दक्षिण दिल्ली नगर निगम ने शहर में सभी नगर निकायों की ओर से मच्छर जनित बीमारियों की रिपोर्ट तैयार की है। इस बीमारी की पहली शिकार उत्तर पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद की 17 वर्षीय लड़की बनी। उसने 21 जुलाई को दम तोड़ दिया। एसडीएमसी ने 391 मामले दर्ज किए हैं जो शहर के सभी क्षेत्रों में सर्वाधिक हैं। रिपोर्ट में बताया गया है कि उत्तरी दिल्ली नगर निगम और पूर्वी दिल्ली नगर निगम में क्रमश: 218 और 148 मामले दर्ज हुए हैं। एसडीएमसी के मध्य जोन में 154 मामले दर्ज किए गए हैं जो चारों जोनों में सर्वाधिक है। नजफगढ़, पश्चिम और दक्षिणी जोनों में क्रमश: 101, 78 और 58 मामले दर्ज हुए हैं। उत्तर दिल्ली नगर निगम के अंतर्गत आने वाले इलाकों में सदर पहाड़गंज में 23 मामले, रोहिणी में 48 और नरेला में 20, करोलबाग में 29 और सिटी में 41 तथा सिविल लाइंस में 57 मामले दर्ज किए गए हैं।

हफ्ते भर में बढ़े चिकनगुनिया के 43 फीसद से ज्यादा मामले 

राष्ट्रीय राजधानी में इस सत्र में कम से कम 5293 लोग चिकनगुनिया के शिकार हुए हैं और केवल पिछले एक हफ्ते में इस बीमारी के दर्ज मामलों की संख्या में 43 फीसद से अधिक की बढ़ोतरी हुई है। नगर निकाय की ओर से सोमवार को एक रिपोर्ट में कहा गया कि एक अक्तूबर तक दर्ज कुल मामलों में से 500 से अधिक मामले उत्तरी दिल्ली नगर निगम क्षेत्र (एनडीएमसी) में दर्ज किए गए हैं। दक्षिणी दिल्ली नगर निगम (एसडीएमसी) के अनुसार, 24 सितंबर तक करीब 3700 मामले दर्ज हुए। एसडीएमसी सभी नगर निगमों की ओर से राष्ट्रीय राजधानी में इस बीमारी के मामलों का डेटा इकट्ठा करता है।तीन नगर निगमों में से इस सत्र में 515 मामले उत्तरी दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी), 498 मामले एसडीएमसी और 172 मामले पूर्वी दिल्ली नगर निगम (ईडीएमसी) में दर्ज हुए। शहर के विभिन्न अस्पतालों में इस बीमारी से पैदा जटिलताओं के कारण कम से कम 15 लोगों की मौत हुई, लेकिन नगर निकायों ने मौत का आंकड़ा शून्य दिखाया। दिल्ली और उत्तर भारत के अन्य राज्य करीब दस साल बाद चिकनगुनिया के मामलों में बढ़ोतरी का सामना कर रहे हैं। साल 2006 में चिकनगुनिया के 13 लाख से अधिक संदिग्ध मामले सामने आए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 4, 2016 4:58 am

  1. No Comments.

सबसे ज्‍यादा पढ़ी गईंं खबरें

सबरंग