ताज़ा खबर
 

एमसीडी चुनाव: दिल्‍ली महिला कांग्रेस अध्‍यक्ष बरखा शुक्‍ला ने खोला मोर्चा, बोलीं- नवरात्र में हमसे नहीं मिले राहुल, होटल में पार्टी करते रहे

बरखा शुक्‍ला दिल्‍ली महिला आयोग की अध्‍यक्ष भी रह चुकी हैं।
पार्टी में राहुल गांधी की तस्‍वीरें दिखातीं बरखा। (Source: PTI)

दिल्‍ली नगर निगम चुनावों से ठीक पहले कांग्रेस में बगावत के सुर तेज हो गए हैं। दिल्‍ली महिला कांग्रेस प्रमुख बरखा शुक्‍ला ने गुरुवार (20 अप्रैल) को प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर वरिष्‍ठ कांग्रेसी नेताओं के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। शुक्‍ला ने वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता अजय माकन पर बेहद गंभीर आरोप लगाए हैं। इसके अलावा शुक्‍ला ने कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी पर उनकी बात को नजरअंदाज करने का आरोप भी मढ़ा है। शुक्‍ला के मुताबिक, अजय माकन महिला कार्यकत्रियों को ‘गाली देते और धमकाते’ थे। प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में बरखा ने कहा, ”28 मार्च को नवरात्र के दिन, मैंने पार्टी की अन्‍य महिला कार्यकर्ताओं के साथ व्रत रखा था, हमने राहुल गांधी से मिलने की कोशिश की मगर हमें बेहद तल्‍ख लहजे में बताया गया कि उन्‍हें नवरात्र की परवाह नहीं और हमें घर जाने को कह दिया। उसी रात, वह शांगरी ला होटल में पार्टी कर रहे थे।” शुक्‍ला दिल्‍ली महिला आयोग की अध्‍यक्ष भी रह चुकी हैं। उन्‍होंने अजय माकन पर खुद को और अन्‍य महिला कार्यकर्ताओं का शोषण करने का आरोप भी लगाया।

शुक्‍ला ने कहा, ”यह पूरी तरह से पाखंड है कि जब विनय कटियार (भाजपा नेता) ने प्रियंका गांधी पर टिप्‍पणी की तो राहुल गांधी का कार्यालय हमसे उसके खिलाफ प्रदर्शन चाहता है। मगर जब हम अजय माकन द्वारा हमें गाली दिए जाने और धमकाने की शिकायत करते हैं, तो हमसे कहा जाता है कि हम माकन से खुद बात करें।” उन्‍होंने कहा, ”बड़े खेद के साथ मैं कहना चाहती हूं कि राहुल गांधी और अजय माकन के नेतृत्‍व में कांग्रेस पार्टी ने महिला सशक्तिकरण के मुद्दे का इस्‍तेमाल केवल वोट बटोरने के लिए किया है।”

अपने इस्‍तीफे में, बरखा के निशाने पर राहुल गांधी रहे हैं। उन्‍होंने पूछा है, ”एक अहम सवाल जो हमें पूछना चाहिए कि राहुल गांधी छिप क्‍यों रहे हैं? वे उन पार्टी कार्यकर्ताओं से मिलने से क्‍यों डरते हैं जो उनसे सवाल पूछते हैं?” बरखा ने दावा किया कि ‘पार्टी के वरिष्‍ठतम नेता’ राहुल को कांग्रेस के नेतृत्‍व के लिए ‘अनफिट’ मानते हैं।

दो दिन पहले ही दिल्‍ली कांग्रेस प्रमुख अरविंदर सिंह लवली और पूर्व युवा कांग्रेस नेता अमित मलिक ने बीजेपी का दामन थाम लिया है। दिल्‍ली नगर निगम के लिए 23 अप्रैल को वोटिंग होनी है।

कांग्रेस नेता का विवादित बयान- "माहवारी में अपवित्र होती हैं महिलाएं, पूजा घर, मस्जिद में न जाएं"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग