December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

दिल्ली मेरी दिल्ली: जाएं तो जाएं कहां, खासमखास इंतजाम

बैंकों में अब कम नोट बदले जा रहे हैं और आने वाले दिनों में उसे भी बंद करने की तैयारी है। नोटबंदी से लोग भले ही परेशान होते रहें, लेकिन सभी दलों को सिर्फ अपनी राजनीति से मतलब है।

Author November 21, 2016 04:32 am
नई दिल्ली में बैंक ऑफ़ बड़ौदा के एटीएम के बाहर कतार में खड़े होकर अपनी बारी की प्रतीक्षा करते लोग। (Photo Source: PTI/File)

हजार और पांच सौ के पुराने नोट बंद होते ही पूरी जनता उन नोटों को बदलने के लिए बैंक और डाकघरों की लाइन में लग गई। जिनके पास काला धन होगा उनकी समस्या तो अलग है, लेकिन आम जनता को भी समझ में नहीं आ रहा कि वह कैसे पुराने के बदले नए नोट पा जाए। इससे केंद्र की सत्ता में काबिज भाजपा के विरोधी नेताओं की बांछें खिल गर्इं। वे रणनीति बनाने लगे कि ऐसा क्या करें जिससे जनता उनके साथ हो जाए। अचानक कुछ लोगों ने बैंकों की कतार में खड़े लोगों को पानी-चाय देना शुरू कर दिया। इसी का फायदा उठाते हुए कांग्रेस ने अपने लोगों को चाय-पानी के साथ बिस्कुट बांटने को कहा तो वहीं दिल्ली की आम आदमी पार्टी (आप) सरकार ने एक कदम आगे बढ़ते हुए राशन विभाग को गरीबों के घरों में राशन उपलब्ध कराने की घोषणा कर दी। इन सबके बीच भाजपा भी कहां पीछे रहने वाली थी, सो उसके लोग भी मोदी के नाम के नारे लगाते हुए लोगों को चाय-पानी देने लगे। सरकार के फैसले पर कतार भारी पड़ने लगी तो उसने नई-नई तरकीब निकालकर कतार छोटी करवानी शुरू कर दी। बैंकों में अब कम नोट बदले जा रहे हैं और आने वाले दिनों में उसे भी बंद करने की तैयारी है। नोटबंदी से लोग भले ही परेशान होते रहें, लेकिन सभी दलों को सिर्फ अपनी राजनीति से मतलब है।
जाएं तो जाएं कहां

नोटबंदी के बाद कालेधन को ठिकाने लगाने में जुटे चांदनी चौक के व्यापारियों के हथकंडे एक-एक कर धराशायी होते जा रहे हैं। अपने मुलाजिम के खातों में पैसे डलवाने से लेकर दिहाड़ी देकर काले धन को सफेद कराने में जुटे व्यवसायियों ने अखबारों में खबरें छपने और खबरिया चैनलों पर स्टिंग आॅपरेशन देखने के बाद मन मार के इस जुगत को वापस ले लिया। बेचारे आजकल यही सोच रहे हैं कि जाएं तो जाएं कहां। उधर दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा लगातार दबिश दे रही है। कहीं ऐसा न हो कि 200 फीसद जुर्माना देना पड़े और साथ में जेल की हवा भी खानी पड़े। किसी ने सटीक टिप्पणी करते हुए कहा कि कर्मचारियों को न्यूनतम मजदूरी तक नहीं देने वाले मालिकों को नौकरों को ही दान करना चाहिए। वहीं कर्मचारियों ने कहा कि पहले खून पिया है, अब जूस ही पिला दें!

खासमखास इंतजाम

पुराने नोट बदलने में आम लोगों को हो रही असुविधा के बीच एक्सिस बैंक ने दिल्ली पुलिस के लिए खास इंतजाम किए हैं। इसके तहत दोपहर में एक घंटे के लिए बैंक सिर्फ दिल्ली पुलिस के लिए काम करेगा। आखिर यह इंतजाम सिर्फ पुलिस वालों के लिए क्यों हो, क्या पुलिस के अलावा अन्य लोगों को कोई दिक्कत नहीं हो रही। इस पर बैंक का तर्क है कि दिल्ली पुलिस एक्सिस बैंक की सम्मानित ग्राहक है और उसकी संख्या करीब 85 हजार के करीब है इसलिए बैंक की ओर से यह खास इंतजाम किया गया। बेदिल को दबी जुबान में यह सुनने को मिला कि बैंक को पता है कि दिल्ली पुलिस ही सुरक्षा व्यवस्था का जिम्मा संभालती है और अगर उसके जवानों को यह बैंकिंग सुविधा आसानी से मिल जाएगी तो फिर बैंक की सुरक्षा तो हो ही जाएगी।

नाम के मुख्यमंत्री

लगता है कि दिल्ली सरकार के ज्यादातर विभाग मनीष सिसोदिया को सौंप कर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उन्हें मुख्यमंत्री बनाना तय कर ही लिया है। माना जा रहा है कि ऐसा पंजाब विधानसभा चुनाव को देखते हुए किया जा रहा है। चर्चा है कि अरविंद केजरीवाल दिल्ली सरकार में कोई विभाग न लेकर और दिल्ली के मामलों में कम से कम दिलचस्पी लेकर यह दिखाना चाहते हैं कि उनके पास पंजाब का मुख्यमंत्री बनने का विकल्प खुला हुआ है। पहले तो सिसोदिया को अहम विभाग देकर और उन्हें उपमुख्यमंत्री घोषित कर केजरीवाल ने यह जताने की कोशिश की कि सिसोदिया ही सरकार चला रहे हैं, लेकिन अब तो विज्ञापनों में भी केजरीवाल के बजाए सिसोदिया ही नजर आने लगे हैं। इससे तो लगता है कि कामकाज से लेकर व्यवहार में भी केजरीवाल ने मनीष सिसोदिया को ही मुख्यमंत्री बना दिया है। अब केवल इंतजार विधिवत घोषणा का है। वैसे अगर पंजाब में आप को अपेक्षित सफलता नहीं मिली तो चाहे नाम के लिए ही सही, केजरीवाल ही दिल्ली के मुख्यमंत्री की कुर्सी पर डटे रहेंगे।
-बेदिल

“सरकार को मीडिया के काम में हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए”: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 21, 2016 4:27 am

सबरंग