December 06, 2016

ताज़ा खबर

 

बर्ड फ्लू की दहशत के बीच सरकार ने जारी किया स्वास्थ्य परामर्श

दिल्ली सरकार ने स्वास्थ्य परामर्श जारी कर लोगों को पक्षियों के संपर्क में आने और मुर्गा व अंडे के सेवन में सावधानी बरतने की सलाह दी।

Author नई दिल्ली | October 25, 2016 01:47 am
विकास मंत्री गोपाल राय।

राजघाट के पीछे शांतिवन के पास की झील में सोमवार को चार और पक्षियों की मौत के बाद दिल्ली सरकार ने राजधानी के लोगों के लिए स्वास्थ्य परामर्श जारी किया है। पशुपालन मंत्री गोपाल राय ने कहा कि चिड़ियाघर, डियर पार्क और राजघाट के पास की झील में पक्षियों की मौत के कारण सतर्कता बढ़ाने की जरूरत है और इसलिए 11 सूत्री स्वास्थ्य परामर्श जारी किया जा रहा है। वहीं जलंधर और भोपाल की केंद्रीय प्रयोगशालाओं से रिपोर्ट आने में देरी को लेकर गोपाल राय मंगलवार को केंद्रीय कृषि मंत्री से मिलेंगे। इसके साथ ही राजधानी के जलाशयों के आसपास एंटी वायरस आॅपरेशन चलाने का निर्देश दिया गया है।

दिल्ली सरकार ने सोमवार को स्वास्थ्य परामर्श जारी कर लोगों को पक्षियों के संपर्क में आने और मुर्गा व अंडे के सेवन में सावधानी बरतने की सलाह दी। सरकार के 11 सूत्री परामर्श में कहा गया है, ‘पक्षियों के स्राव के साथ सीधे संपर्क में आने से बचें, पालतू पक्षी और पोल्ट्री के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले पिंजरे और खाने के बर्तन को रोज साबुन या डिटर्जेंट से धोएं। किसी भी मृत पक्षी को नंगे हाथों से न छुएं और तुरंत नियंत्रण कक्ष (01123890318) में फोन करें। कच्चे पोल्ट्री उत्पादों के साथ काम करते वक्त हाथ बार-बार धोएं और मास्क व दस्ताने का इस्तेमाल करें। मीट-अंडे का सेवन पूरी तरह से पका कर करें। अपने रिहायशी इलाके के तालाबों में संबंधित विभाग से संपर्क कर चूने दवाई का छिड़काव कराएं। कच्चा या अधपका चिकन और अंडे न खाएं। बीमार या सुस्त दिख रहे पक्षियों के संपर्क में न आएं।’

Speed News: जानिए दिन भर की पांच बड़ी खबरें

सोमवार को कॉर्डिनेशन कमिटी की बैठक के बाद पशुपालन मंत्री गोपाल राय ने कहा कि तीन दिन से चिड़ियाघर में किसी पक्षी की मौत नहीं हुई है, डियर पार्क में सोमवार को सिर्फ दो पक्षियों की मौत की सूचना है। उन्होंने कहा कि एंटीवायरल आॅपरेशन का नतीजा दिख रहा है। बैठक में उन सारे विभागों के लिए जरूरी निर्देश जारी किए गए, जिनके अधीन किसी भी तरह के जलाशय आते हैं। इसके अनुसार सभी जलाशयों के इर्द-गिर्द कीटाणुरोधक अभियान चलाया जाएगा, जिसके तहत जलाशय के चारों ओर 4 फीट चौड़ा चूने का छिड़काव किया जाएगा। पक्षियों के ऊपर एंटीवायरस स्प्रे (सोडियम हाइपोक्लोराइड) का छिड़काव किया जाएगा और पालतू पक्षियों के दाने में मल्टीविटामिन का घोल मिलाया जाएगा। इसके साथ ही 12 रैपिड रेस्पॉन्स टीमें बनाई गई हैं जिन्हें मंगलवार को पशुपालन विभाग में प्रशिक्षण देकर फील्ड में उतारा जाएगा। शांतिवन के पीछे की झील में पक्षियों की मौत की जांच के लिए एक टीम भेजी गई है और पशुपालन मंत्री गोपाल राय मंगलवार को यहां का दौरा करेंगे।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 25, 2016 1:47 am

सबरंग