June 23, 2017

ताज़ा खबर
 

राहुल गांधी और मनीष सिसोदिया के बाद अब दिल्ली पुलिस ने CM अरविंद केजरीवाल को हिरासत में लिया

दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल पिछले 4-5 घंटों से पूर्व सैनिक के परिवार से मिलने का इंतजार कर रहे थे।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल। (फाइल फोटो)

दिल्ली पुलिस ने राहुल गांधी और मनीष  सिसोदिया के बाद अब दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को हिरासत में ले लिया है। हिरासत में लेकर पुलिस केजरीवाल को आरके पुरम थाने लेकर गई है। केजरीवाल पूर्व सैनिक राम किशन ग्रेवाल के परिवार से मिलने के लिए अस्पताल गए थे। केजरीवाल 4-5 घंटों से अस्पताल के अंदर जाने के लिए इंतजार कर रहे थे, लेकिन पुलिस उन्हें अंदर नहीं जाने दे रही थी। केजरीवाल से पहले मनीष सिसोदिया पूर्व सैनिक परिवार से मिलने अस्पताल आए, उन्हें भी पुलिस नहीं मिलने दिया गया। सिसोदिया को भी पुलिस ने अपनी हिरासत में ले लिया था। वहीं कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी सैनिक परिवार से मिलने पहुंचे थे। लेकिन उन्हें भी दिल्ली पुलिस ने हिरासत में ले लिया। राहुल गांधी को दो घंटे हिरासत में रखने के बाद छोड़ दिया गया था। इसके बाद राहुल गांधी एक बार फिर सैनिक के परिवार से मिलने पहुंचे तो दिल्ली पुलिस ने उन्हें दोबारा हिरासत में ले लिया। बता दें, पूर्व सैनिक ने ओआरओपी की मांग पूरी नहीं होने पर मंगलवार को दिल्ली में जहर खाकर सुसाइड कर लिया था। हालांकि, पुलिस ने बाद में राहुल गांधी और मनीष सिसोदिया को छोड़ दिया।

वीडियो में देखें -OROP को लेकर पूर्व सैनिक के सुसाइड पर चढ़ा सियासी पारा

बुधवार शाम को पूर्व सैनिक रामकिशन का वह ऑडियो भी सामने आया है, जिसमें से सुसाइड से पहले अपने बेटे से बात कर रहे हैं। सुसाइड से पहले राम किशन ने फोन पर अपने बेटे से कहा था कि उनके साथ अन्याय हुआ है। ऑडियो न्यूज चैनल आज तक ने प्रसारित किया है। ऑडियो में ग्रेवाल अपने बेटे से कह रहे हैं, ‘मैंने जहर खा लिया है और इंडिया गेट पर बैठा हूं। मैंने तीन-चार सल्फास की गोलियां खाई हैं। हमारे साथ अनर्थ हुआ है। हमारे जवानों को न्याय नहीं मिला। हमारे जवानों के साथ जो अनर्थ और अन्याय हो रहा है, वह देखा नहीं गया। हम लोगों ने अपनी लड़ाई लड़ी। अब आगे ये जवान जानें कि क्या करेंगे और क्या नहीं। हम अपने उसूलों के आदमी हैं। मेरे जवानों, देश और मातृभूमि के लिए अपनी जान न्यौछावर कर दी है।’

पूर्व सैनिक रामकिशन ग्रेवाल हरियाणा के भिवानी जिले के बामला गांव के रहने वाले थे। राम किशन हरियाणा सरकार के पंचायत विभाग में भी कार्यरत थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 2, 2016 7:56 pm

  1. A
    Anil Madanlal Dugad
    Nov 3, 2016 at 3:27 am
    इस देश में क्या होरहा है सब पार्टिया जनता को मूरख बना रही है अरे एक सैनिक आत्महत्या करता है तो इतना ड्रामा रोज हजारो बचे बूढे महिला अबला इन सरकारोकी नीतियोंसे जिन्दा लाश बनके जी रहे लगबग सब पार्टीयोकी सरकार है कोई योजना का ढंगसे पालन नहीं होता उसपे सब चुप किसानोंको फसल का भाव नहीं मिलरहा उसपे भी चुप सरकारी स्कूलमे हजारोक वेतन लेकर बचोंको पढ़नेवाला शिक्षक गायब रहता है सब पार्टियोंके राज में वहपे नहीं धरना दिया जाता प्राथमिक आरोग्य सिविल हॉस्पिटल में दावा गायब कर्मचारी गया
    Reply
    1. D
      Dinesh Singh
      Nov 2, 2016 at 6:45 pm
      इस तरह से भाजपा ने लोगो का ध्यान भोपाल एनकाउंटर काण्ड से हटा लिया.
      Reply
      सबरंग