May 25, 2017

ताज़ा खबर

 

अमेरिकी कंसर्ट में सितार वादक अमजद अली खान, भारत-पाकिस्तान से करेंगे शांति की अपील

वॉशिंगटन के लिंकन मेमोरियल में ‘चैंटफॉरचेंज 2016’ का कार्यक्रम आयोजित हो रहा है।

Author नई दिल्ली | October 6, 2016 16:41 pm
भारतीय सरोद वादक अमजद अली खान। (Photo Source: Facebook Page)

मशहूर सरोद वादक अमजद अली खान और उनके बेटे अमान तथा अयान अमेरिका के एक कंसर्ट में अन्य कलाकारों के साथ मिलकर संयुक्त रूप से शनिवार (8 अक्टूबर) को दुनिया भर में शांति और सद्भाव के लिए अपील करेंगे। वॉशिंगटन के लिंकन मेमोरियल में ‘चैंटफॉरचेंज 2016’ का कार्यक्रम आयोजित हो रहा है। इस कार्यक्रम में दुनिया भर से सामाजिक, राजनैतिक और धार्मिक परिपेक्ष्य से आए प्रतिभागी गीत के माध्यम से अपनी आवाज उठा सकते हैं। इस कार्यक्रम के आयाजकों ने कहा, ‘चैंट म्यूजिक महात्मा गांधी से लेकर मार्टिन लूथर किंग जूनियर जैसे लोगों के क्रांतिकारी कामों से लंबे समय से प्रभावित है। चैंट फॉर चेंज नाकारात्मकता के विकल्प में ‘सचेत कार्रवाई’ है।’

वहीं अमजद अली खान कहते हैं, ‘चैंट फॉर चेंज दुनिया में शांति और सद्भावना की अपील है। अमान (अली बंगश, अयान, और मैं) ऐसे गीत गाएंगे जो शांति और सद्भावना का प्रतीक हैं। ये गीत गहरे रूप से मार्टिन लूथर किंग जूनियर, महात्मा गांधी और सूफी हजरत अमीर खुसरो से जुड़े हुए हैं।’ ये तीनों यहां खास तौर से ‘वी शैल ओवरकम’, या ‘हम होंगे कामयाब’, ‘वैष्णव जन’, ‘रघुपति राघव राजा राम’ और खुसरो के द्वारा 13वीं शताब्दी में शुरू किए गए तराना शैली के गीत गाएंगे। खान ने बताया, ‘इन गीतों को गाने का यह सबसे सही समय है।’

खान के साथ तबले पर अभिजीत बनर्जी मौजूद होंगे। इस कार्यक्रम में कई प्रसिद्ध आध्यात्मिक, भक्ति और सूफी संगीत गाए जाएंगे। खान को आशा है कि वो इस प्रदर्शन से भारत और पाकिस्तान सहित पूरी दुनिया को शांति और सद्भावना का संदेश दे सकेंगे। दुनिया भर के 1,000 से ज्यादा लोगों ने पहली बार 2009 में आयोजित हुए ‘चैंट फॉर चेंज’ में हिस्सा लिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 6, 2016 4:41 pm

  1. No Comments.

सबरंग