ताज़ा खबर
 

विधायकों को ‘झूठे’ मामलों में फंसाने पर हाई कोर्ट जा सकती है ‘आप’

‘आप’ की दिल्ली इकाई के संयोजक दिलीप पाण्डेय ने कहा, ‘केंद्र ने दिल्ली में अघोषित आपात लागू किया हुआ है।'
Author नई दिल्ली | July 25, 2016 21:44 pm
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (पीटीआई फाइल फोटो)

विभिन्न आरोपों में आम आदमी पार्टी के दो विधायकों की गिरफ्तारी के एक दिन बाद दिल्ली की सत्तारूढ़ पार्टी ने सोमवार (25 जुलाई) को कहा कि उसके विधायकों के खिलाफ गढ़े गये सभी ‘झूठे’ मामलों को संकलित करके वह दिल्ली उच्च न्यायालय में एक रिट याचिका दायर करेगी। ‘आप’ की दिल्ली इकाई के संयोजक दिलीप पाण्डेय ने कहा कि प्रथम दृष्टया विधायकों को ‘साजिश’ के तहत आरोपी बनाया जा रहा है। पाण्डेय ने कहा, ‘केंद्र ने दिल्ली में अघोषित आपात लागू किया हुआ है। इस तरह की कार्रवाइयों से ‘आप’ का कोई भी विधायक, मंत्री या कार्यकर्ता डरने वाला नहीं है’’

सीमापुरी से ‘आप’ के विधायक राजेन्द्र पाल गौतम ने कहा कि उनके पार्टी विधायकों के खिलाफ लगाए आरोपों की प्रवृत्ति एक जैसी है। उन्होंने कहा कि शिकायत दर्ज कराने से लेकर प्राथमिकी दर्ज कराने तक अलग-अलग बयान दिये जाते हैं। रविवार (24 जुलाई) दिल्ली पुलिस ने ओखला के विधायक अमानतुल्ला खान को गिरफ्तार कर लिया। एक महिला ने आरोप लगाया था कि उन्होंने अपने कार से उनको कुचलने की कोशिश की, जिसके बाद विधायक के खिलाफ यह कार्रवाई की गयी।

वहीं महरौली के विधायक नरेश यादव को कथित मलेरकोटला बेअदबी मामले में पंजाब पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर हमला बोलते हुए पाण्डेय ने कहा कि आप विधायकों की गिरफ्तारी भाजपा की ‘राजनीतिक दिवालियापन’ और बुजदिली दिखाता है। उन्होंने दावा किया कि जब से पार्टी सत्ता में आयी है तब से हर महीने औसतन एक विधायक की गिरफ्तारी हुई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.