December 04, 2016

ताज़ा खबर

 

दिल्ली: दिवाली की रात करीब 300 जगहों पर लगी आग

मकल विभागों को दीपावली की रात तक करीब 243 जगहों पर आग लगने की सूचना मिली है।

Author नई दिल्ली | November 1, 2016 05:06 am
पटाखे।

दीपावली पर राजधानी दिल्ली के विभिन्न इलाके में करीब तीन सौ जगहों पर आग लगी। दमकल विभागों को दीपावली की रात तक करीब 243 जगहों पर आग लगने की सूचना मिली है। बीते साल यह आंकड़ा चार सौ के पार था। पुलिस और दिल्ली फायर की मुस्तैदी ने आग की इन घटनाओं में एक बच्चे, एक महिला समेत कुछ लोगों के मामूली रूप से घायल होने के अलावा कोई अन्य बड़ी घटना की जानकारी नहीं है।

जानकारी के मुताबिक, दीपावली की रात अमर कालोनी में लड़कियों के हास्टल में आग लगने से कुछ देर के लिए अफरा-तफरी मच गई। उधर नरेला औद्योगिक इलाके की एक फैक्टरी में आग लग गई जिससे लाखों के सामान खाक गए। दिल्ली पुलिस और दिल्ली फायर ने सूचना मिलते ही आग की इन घटनाओं पर काबू पाने में सफलता पाई है। दिल्ली फायर सेवा के मुख्य अग्निशमन अधिकारी अतुल गर्ग ने बताया कि सेवा के दीपावली की रात 12 बजे तक कंट्रोल रूप में करीब 243 फोनकॉल आएं जिस पर फौरन कार्रवाई करते हुए घटनास्थलों पर दमकलों को भेजा गया और आग पर काबू पा लिया गया। हालांकि उन्होंने कहा कि कोई बड़ी घटना नहीं घटी है। कुछ जगहों पर पटाखे से आग लग गई वहीं कुछ जगहों पर अन्य कारणों से आग लगी।

मंदिरों में दलितों के खिलाफ भेदभाव को खत्म करने के लिए दलितों, आदिवासियों ने एक साथ मनाई दिवाली

इस प्रकार की स्थिति से निपटने के लिए पहले से ही तैयार कर ली गई थी। करीब डेढ़ हजार दमकल कमिर्यों को किसी तरह की घटनाओं से निपटने के लिए तैनात किया था। दीपावली पर आग लगने से संबंधित फोनकॉल में इजाफे के मद्देनजर प्रशासन ने नियंत्रण कक्ष में फोन लाइनों की संख्या भी बढ़ा दी थी। दिल्ली में दमकल के 59 स्थायी स्टेशन के अलावा दमकल विभाग ने समूचे शहर में 22 जगहों पर अस्थायी स्टेशन स्थापित किए थे जहां से पिछले साल दिवाली के दिन सबसे ज्यादा फोनकॉल प्राप्त हुई थीं। रविवार रात करीब 3 बजे के आसपास दिल्ली के मोहन गार्डन में पटाखों के स्टाल में आग लगने से एक महिला व बच्चों को घायल अवस्था में अस्पताल में भर्ती कराया गया।

सोमवार रात लाजपतनगर के अमर कालोनी स्थित महिलाओं के पेइंग गेस्ट (पीजी हास्टल) में भी आग लग गई। अचानक लगी इस आग से तीन मंजिला मकान से बाहर निकलने के सारे रास्ते बंद हो गए। इसके कारण हास्टल में रहने वाली 23 लड़कियां और चार बुजुर्ग महिलाएं कुछ देर के लिए फंस गई। हालांकि जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस और दिल्ली फायर की टीम ने बालकनी से घर में प्रवेश कर सभी को सुरक्षित बाहर निकाल लिया।
बताया जा रहा है कि रविवार रात करीब 11 बजे दीपावली की पटाखे की गूंज के बीच कुछ लोगों ने ए-ब्लॉक में एक मकान की पहली मंजिल से धुआं निकलता देख अग्निशमन केंद्र व पुलिस को फोन कर जानकारी दी थी।

सूचना मिलते ही अमर कालोनी थाने की पुलिस और दिल्ली फायर की गाड़ियां मौके पर पहुंच गई। बचाव दलों ने मकान की बालकनी का दरवाजा तोड़कर घर में प्रवेश किया और अंदर फंसी सभी लड़कियों व महिलाओं को सुरक्षित बाहर निकाल लिया। आग लगने के पुख्ता कारणों का पता नहीं चल पाया है। पुलिस ने पटाखे सहित अन्य विंदुओं से मामले की जांच शुरू कर दी है। उधर नरेला इंडस्ट्रियल इलाके में एक फैक्टरी में भीषण आग लग गई। जानकारी मिलते ही आग को बुझाने के लिए दमकल की 20 गाड़ियां भेजी गई। आग की वजह से लाखों के नुकसान की आशंका जताई जा रही है। आग से किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। आग लगने के कारणों का पता नहीं चला है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 1, 2016 5:06 am

सबरंग