ताज़ा खबर
 

स्कोर को लेकर कबड्डी मैच में फायरिंग, राज्य स्तर के खिलाड़ी की खोपड़ी में लगी गोली

आरोपियों के खिलाफ अंबेडकरनगर पुलिस थाने में केस दर्ज किया गया है।
Author नई दिल्ली | September 12, 2017 11:33 am
पुलिस ने इस मामले में आरोपियों के खिलाफ हत्या की कोशिश करने का केस दर्ज कर लिया है।

दिल्ली में एक फ्रेंडली कब्बडी मैच में एक छोटे से स्कोर को लेकर हुई बहस इतनी बढ़ गई कि 17 वर्षीय खिलाड़ी को गोली मार दी गई। यह मामला दक्षिण-पूर्वी दिल्ली के दक्षिणपुरी इलाके का है। जिस कबड्डी खिलाड़ी को गोली मारी गई है उस खिलाड़ी का नाम अविनाश है। गोली अविनाश के माथे पर लगी और सिर के ऊपर से जा निकली जिससे कि वह गंभीर रूप से घायल हो गया। पुलिस ने इस मामले में आरोपियों के खिलाफ हत्या की कोशिश करने का केस दर्ज कर लिया है। दक्षिण-पूर्वी दिल्ली के डीसीपी रोमिल बानिया द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार आरोपियों के खिलाफ अंबेडकरनगर पुलिस थाने में केस दर्ज किया गया है।

रोमिल ने बताया कि दो आरोपियों की पहचान कर ली गई है। फिलहाल आरोपी फरार हैं और उनकी तलाश के लिए कई पुलिस टीमों का गठन किया गया है। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि अविनाश इलाके के ब्लॉक 20 में अपने तीन बहन-भाइयों के साथ रहता है। दसवीं में पढ़ने वाले अविनाश के दोस्त मोहित ने पुलिस को बताया कि इलाके के पार्क में ब्लॉक C और ब्लॉक 20 के बीच एक फ्रेंडली मैच खेला जा रहा था। यह घटना शाम के करीब 8 बजे की है। मोहित ने पुलिस को बताया कि एक छोटे से स्कोर के कारण दोनों टीमों के बीच विवाद हो गया था।

एक बच्चा मैदान की मिट्टी पर लिखकर स्कोर का रिकॉर्ड रख रहा था। वहीं जो दर्शक दूसरी टीम का समर्थन कर रहे थे उन्होंने मैदान से स्कोर को मिटा दिया। जब हमारी टीम के खिलाड़ियों ने इसका विरोध किया तो उनमें से एक ने बंदूक निकालकर फायर करना शुरु कर दिया। इसी बीच गोली अविनाश के सिर पर लगी और वो जमीन पर गिर गया। अविनाश के पिता ने आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। उन्होंने बताया कि गोली लगने के कारण अविनाश की खोपड़ी का बायां हिस्सा बुरी तरह से खराब हो गया है। बता दें कि अविनाश स्टेट लेवल के कबड्डी मैचों में खेल चुका है।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग