ताज़ा खबर
 

एनसीसी ने मुझे देशभक्ति और अनुशासन की सीख दी: नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एनसीसी कैडट के रूप में अपने दिनों को याद करते हुए आज कहा कि इसने उन्हें कड़ा अनुशासन और देशभक्ति सहित बहुत कुछ सिखाया है। उन्होंने एनसीसी कैडटों से कहा कि वे स्वच्छता को एक अभियान के रूप में लें जो कि देश सेवा का हिस्सा है। गणतंत्र दिवस के समापन […]
Author January 28, 2015 17:12 pm
एनसीसी ड्रेस में नरेंद्र मोदी, नीचे से पहली पंक्ति में बाईं ओर से प्रथम। (तस्वीर-पीटीआई)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एनसीसी कैडट के रूप में अपने दिनों को याद करते हुए आज कहा कि इसने उन्हें कड़ा अनुशासन और देशभक्ति सहित बहुत कुछ सिखाया है। उन्होंने एनसीसी कैडटों से कहा कि वे स्वच्छता को एक अभियान के रूप में लें जो कि देश सेवा का हिस्सा है।

गणतंत्र दिवस के समापन पर एनसीसी कैंप में मोदी ने कैडटों को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘मैं हालांकि दिल्ली (गणतंत्र दिवस परेड) के लिए कभी नहीं चुना गया, इसमें हिस्सा लेने को चुने जाने के लिए आप लोगों ने कितनी मेहनत की होगी। …राजपथ परेड के लिए सुबह एक बजे उठना, सुबह तीन बजे प्रैक्टिस करना…आप लोगों ने इससे काफी कुछ सीखा होगा।’’

यहां गैरिसन परेड ग्राउंड में प्रधानमंत्री ने उत्साहित एनसीसी कैडेटों से मिलने से पहले कैडेट के रूप में अपने दिनों को याद करते हुए ट्वीट किया, ‘‘आज एनसीसी कैडटों को संबोधित करूंगा। एनसीसी से जुड़े अपने दिनों की यादें उमड़ रही हैं। एनसीसी ने मुझे बहुत कुछ सिखाया है।’’

एनसीसी कैडटों से उन्होंने कहा कि उनका ‘स्वच्छ भारत मिशन’ ना तो कोई कार्यक्रम है और ना कोई घटना, बल्कि यह ‘‘लोगों की मानसिकता बदलने का एक प्रयास है। जब तक हम 125 करोड़ भारतीयों की मानसिकता बदलने में सक्षम नहीं होंगे, तब तक यह मिशन जारी रहेगा।’’

उन्होंने कहा कि स्वच्छता, भारत माता की सेवा करने का एक सर्वोत्तम तरीका है। एनसीसी और उसके शिविरों के महत्व को रेखांकित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि ये विविधता में एकता के सर्वोत्म उदाहरण हैं। ये लघु भारत को दर्शाते है और लोगों की सोच के दायरे को व्यापक बनाते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.