December 08, 2016

ताज़ा खबर

 

नगरोटा हमला: सेना के शिविर में छुपे आतंकवादी का तलाशी अभियान शुरू

नगरोटा में सेना के शिविर में छुपे किसी भी आतंकवादी की तलाश के लिए आज अभियान शुरू किया गया। यहां पर एक आतंकी हमले में सेना के सात जवान शहीद हो गये थे।

Author नई दिल्ली | November 30, 2016 14:28 pm
हमले के दौरान अपनी रणनीति तैयार करते हुए सेना के जवान। (Source: PTI)

नगरोटा में सेना के शिविर में छुपे किसी भी आतंकवादी की तलाश के लिए आज अभियान शुरू किया गया। यहां पर एक आतंकी हमले में सेना के सात जवान शहीद हो गये थे। सेना प्रमुख जनरल दलबीर सिंह सुहाग के आज स्थिति की समीक्षा करने के लिए नगरोटा कोर के मुख्यालय आने की संभावना है। सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘‘आज सुबह शिविर में तलाश अभियान फिर से शुरू किया गया।

’उन्होंने बताया, ‘‘इलाके में कोई अन्य आतंकवादी तो नहीं छिपा है यह देखने के लिए तलाशी अभियान चलाया गया है। हम कोई जोखिम नहीं ले सकते ।’जम्मू में कल दो आतंकी हमले हुए थे जिसमें मेजर रैंक के दो अधिकारियों सहित सात सैन्यकर्मी शहीद हो गये थे और बीएसएफ के एक डीआईजी सहित आठ सुरक्षाकर्मी घायल हो गये थे। अलग-अलग मुठभेड़ में भारी हथियारों से लैस छह आतंकवादियों को ढेर कर दिया गया था।

एक घटना में पुलिस की वर्दी में भारी हथियारों से लैस आतंकवादियों के एक दस्ते ने नगरोटा में सेना के एक ठिकाने पर हमला कर दिया। यह जगह जम्मू शहर से बाहर कोर मुख्यालय से करीब तीन किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इस हमले में दो अधिकारी सहित सेना के सात जवान शहीद हो गये और मुठभेड़ में तीन आतंकवादी भी मारे गये। यहां पर बंधक जैसे हालात पैदा हो गये थे जिसमें 12 जवान, दो महिलाएं और दो बच्चों घिर गये थे। इन सभी लोगों को बचा लिया गया। अंतरराष्ट्रीय सीमा के नजदीक संबा के रामगढ़ इलाके में कई घंटों तक चली मुठभेड़ में बीएसएफ ने तीन आतंकवादियों को ढेर कर दिया गया। साथ ही पाकिस्तानी जवानों ने भी सीमा पार से भारी गोलीबारी की थी। इस मुठभेड़ में बीएसएफ के डीआईजी सहित चार सुरक्षाकर्मी घायल हो गये थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 30, 2016 2:16 pm

सबरंग