ताज़ा खबर
 

वारंट लेकर घर गए पुलिस कॉन्सटेबल ने महिला से बनाए संबंध, मां की इजाजत से बेटी से रेप करने का आरोप

स्थानीय मीडिया के मुताबिक पुलिस ने कहा कि करीब डेढ़ साल पहले नाबालिग लड़की के पिता ने कुछ सामान किस्तों पर लिया था। शख्स द्वारा दिए गए चेक बाउंस हो गए थे।
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

मध्य प्रदेश पुलिस के एक कॉन्सटेबल की शर्मनाक हरकत सामने आई है। एमपी पुलिस में तैनात एक कॉन्सटेबल को दस साल की बच्ची के साथ रेप करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया। पुलिसवाले के साथ नाबालिग लड़की की मां को भी गिरफ्तार किया गया है। कथित तौर पर बेटी के साथ संबंध बनाने के लिए पुलिसवाले को पीड़िता की मां की ओर से सहमति दी गई थी। यह मामला राज्य के जबलपुर जिले का बताया जा रहा है। पुलिस ने इस मामले में शिकायत दर्ज कर ली है। इस मामले से जुड़े एक अधिकारी के मुताबिक आरोपी कॉन्सटेबल एक साल से लड़की का शारीरिक शोषण कर रहा था। इस बात का खुलासा शनिवार को हुआ जब पीड़िता ने हिम्मत जुटाकर सारी हैवानियत की कहानी अपनी दादी को बताई। जिसके बाद उन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। पीड़िता की मेडिकल जांच करवाई जा रही है।

स्थानीय मीडिया के मुताबिक पुलिस ने कहा कि करीब डेढ़ साल पहले नाबालिग लड़की के पिता ने कुछ सामान किस्तों पर लिया था। शख्स द्वारा दिए गए चेक बाउंस हो गए थे। जिसके कारण उसके नाम पर वारंट जारी हुआ था। शिकायतकर्ता के मुताबिक पुलिसवाला वॉरंट लेकर उनके घर आया। वारंट तमीली के  दौरान पुलिसवाला अक्सर महिला के घर जाने लगे और उसके महिला के साथ रिश्ते बन गए। बाद में आरोपी ने महिला की 10 साल की बेटी को शिकार किया। पीड़िता ने अपनी दादी को बताया कि मां उसे आरोपी पुलिसवाले के साथ कमरे में बंद कर देती थी। पुलिस की ओर से बताया कि नाबालिग द्वारा विरोध करने पर पुलिसवाला उसके साथ मारपीट करता था।

पुलिस के मुताबिक आरोपी मां और पुलिसवाले के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (IPC) की विभिन्न धाराओं और पॉस्को एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया। इस संबंध में लड़की के दादा-दादी ने चाइल्ड वेलफेयर कमेटी को भी इस शोषण की जानकारी दी दई है। रिपोर्ट्स के मुताबिक नाबालिग को नशे की गोलियां देकर उसके साथ रेप किया जाता था। मामले की जानकारी होने के बाद आरोपी मां फरार हो गई थी। बाद में पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on May 14, 2017 11:44 am

  1. No Comments.
सबरंग