ताज़ा खबर
 

यूपी: बेटी और मां से छेड़छाड़, इज्जत बचाने के लिए चलती ट्रेन से लगानी पड़ी छलांग

ट्रेन में तैनात राजकीय रेलवे पुलिस कर्मियों ने सूचना मिलने पर उस बोगी से शोहदों को हटाया, लेकिन थोड़ी ही देर बाद वे वापस आ गए और मां-बेटी से फिर छेड़छाड़ करने लगे।
Author कानपुर | November 13, 2017 20:43 pm
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

उत्तर प्रदेश के कानपुर में कथित रूप से छेड़खानी से बचने के लिए मां-बेटी ने ट्रेन से छलांग लगा दी। इस मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में एक महिला दारोगा समेत दो रेलवे पुलिसर्किमयों को निलम्बित कर दिया गया है। पुलिस सूत्रों ने सोमवार को बताया कि गत शनिवार को कोलकाता से दिल्ली जा रही हावड़ा-जोधपुर एक्सप्रेस की सामान्य श्रेणी के डिब्बे में यात्रा कर रही नूरजहां (36) और उसकी 14 वर्षीय बेटी सोनिया से कुछ शोहदों ने छेड़खानी की थी।

उन्होंने बताया कि ट्रेन में तैनात राजकीय रेलवे पुलिस कर्मियों ने सूचना मिलने पर उस बोगी से शोहदों को हटाया। मगर थोड़ी ही देर बाद वे वापस आ गए और मां-बेटी से फिर छेड़छाड़ करने लगे। कोई मदद ना मिलते देख वे दोनों कानपुर सेंट्रल और चंदेरी रेलवे स्टेशनों के बीच ट्रेन से कूद गईं। सूत्रों ने बताया कि रविवार सुबह स्थानीय लोगों ने नूरजहां और सोनिया को बेहोशी की हालत में अस्पताल में भर्ती कराया।

होश में आने पर उन्होंने आपबीती बताई। इलाज के बाद दोनों को आज छुट्टी दे दी गई। रेलवे पुलिस अधीक्षक प्रदीप कुमार मिश्र ने बताया कि इस मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ भारतीय दण्ड विधान की धारा 354 तथा 506 एवं पाक्सो कानून की विभिन्न धाराओं के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया गया। उन्होंने बताया कि इस मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में दारोगा हसीना खातून और सिपाही प्रेमा वर्मा को निलम्बित कर दिया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.