ताज़ा खबर
 

योगी आदित्य नाथ के फैसले से मीट का संकट, मुस्लिमों की शादी में मेहमानों को खिलाई जा रही वेज बिरयानी

अकेले यूपी ही नहीं बल्कि योगी आदित्य नाथ के अवैध बूचड़खानों को बंद करने के आदेश के बाद 4 और बीजेपी शासित राज्यों ने भी इसे अपने लागू किया।
Author मुरादाबाद | March 29, 2017 13:33 pm
शादी में चिकन-मटन की जगह मेहमानों को खिला रहे वेज बिरयानी। (ANI Photo)

उत्तर प्रदेश में सीएम योगी आदित्य नाथ द्वारा अवैध बूचड़खानों पर कार्रवाई करने का आदेश दिया। योगी के आदेश के बाद प्रशासन लगातार कार्रवाई कर रहा है और कई अवैध बूचड़खानों को बंद करवा चुका है। कार्रवाई के कारण लोगों ने मटन और चिकन की दुकानें भी बंद कर रखी है। सरकार की कार्रवाई की विरोध में मीट कारोबारी सोमवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठे हैं। चिकन और मछली बेचने वाले ने इनके साथ खड़े हो गए हैं। सोमवार को करीब 5000 दुकानें बंद रही। राजधानी लखनऊ समेत कई जिलों में मीट की भारी किल्लत हो गई है। मीट किल्लत का असर शादियों में भी दिखने लगा है। मुरादाबाद में मंगलवार को एक सामूहिक समारोह का आयोजन किया गया, जिसमें गरीब मुस्लिमों का निकाह करवाया गया। एएनआई के मुताबिक राज्य में मीट बंदी के कारण लोगों को वेज बिरयानी खिलाई गई। फंक्शन में मौजूद मेहमनों को वेजिटेबल पुलाव (तहरी) परोसा गया है। अवैध बूचड़खानों पर सख्ती के बाद भैस के मीट मिलने में समस्या आ रही है।

अकेले यूपी ही नहीं बल्कि योगी आदित्य नाथ के अवैध बूचड़खानों को बंद करने के आदेश के बाद 4 और बीजेपी शासित राज्यों ने भी इसे अपने लागू किया। राजस्थान, उत्तराखंड, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश सरकार ने अवैध बूचड़खानों और दुकानों को बंद करने के आदेश दिए गए। योगी आदित्‍य नाथ ने पुलिस को सख्‍त निर्देश दिए थे कि गो-हत्या और अवैध रूप से चल रहे बूचड़खानों पर तत्‍काल रोक लगाई जाए। योगी सरकार के इस कदम के विरोध में राज्‍य भर के मांस विक्रेताओं ने सोमवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए। दुकानदारों ने योगी आदित्‍य नाथ से ‘देश के लिए लड़ने को कहा है, गोश्‍त के लिए नहीं।’

वहीं, योगी सरकार में स्वास्थ्य मंत्री सिद्घार्थ नाथ सिंह ने बूचड़खानों पर की जा रही कार्रवाई को लेकर अधिकारियों को अति उत्साही होने से बचने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि अवैध रूप से चलने वाले बूचड़खानों पर ही कार्रवाई की जाए। जिनके पास लाइसेंस हैं उन्‍हें परेशान ना किया जाए। सिद्धार्थनाथ सिंह ने सोमवार को कहा सरकार ने चिकन और अंडे की दुकानों को बंद करने के लिए नहीं कहा है तो जो भी यह अफवाह उड़ा रहा है लोग उनकी अफवाहों पर ध्यान न दें। उन्होंने कहा कि यह कार्रवाई सिर्फ उन बूचड़खानों पर की जा रही है जो कि अवैध रूप से चल रहे हैं, इसलिए उन लोगों को डरने की जरूरत नहीं है जिनके पास लाइसेंस हैं।

 

योगी आदित्यनाथ इन तस्वीरों पर भी गौर कर लेते तो गैरभाजपाई वोटर्स भी हो जाते मुरीद

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग