March 27, 2017

ताज़ा खबर

 

आप ने रक्षामंत्री पर लगाया आरोप, कहा- सेना की प्रतिष्ठा गिरा रहे हैं पर्रिकर

नियंत्रण रेखा के पार सेना के लक्षित हमले को लेकर भाजपा तथा आप के बीच वाकयुद्ध आज और तेज हो गया तथा अरविंद केजरीवाल नीत पार्टी ने आरोप लगाया कि रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर सशस्त्र बलों की ह्यह्यप्रतिष्ठा को कम कर रहे हैं। इसके साथ ही पार्टी ने उनके खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराने की धमकी दी।

Author नई दिल्ली | October 7, 2016 04:45 am

नियंत्रण रेखा के पार सेना के लक्षित हमले को लेकर भाजपा तथा आप के बीच वाकयुद्ध आज और तेज हो गया तथा अरविंद केजरीवाल नीत पार्टी ने आरोप लगाया कि रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर सशस्त्र बलों की ह्यह्यप्रतिष्ठा को कम कर रहे हैं। इसके साथ ही पार्टी ने उनके खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराने की धमकी दी। दिल्ली के पर्यटन मंत्री कपिल मिश्रा ने पर्रिकर को मुगल शासक ह्यह्यशाह रंगीला बताया जिनके बारे में दावा किया जाता है कि वह अपने साम्राज्य पर ध्यान देने के बदले मनोरंजन में लिप्त रहता था । मिश्रा ने दावा किया कि जब देश भर में हाई अलर्ट जारी है, रक्षा मंत्री ह्यह्यशहीद सैनिकों के शवों पर जश्न में व्यस्त हैं । उन्होंने सेना की तुलना हनुमान से किए जाने के पर्रिकर के बयान को लेकर भी उन पर निशाना साधा। पर्रिकर ने एक अक्तूबर को देहरादून में एक कार्यक्रम में रामायण का जिक्र किया था जिसमें हनुमान को उनकी शक्ति की याद दिलाने पर वह एक बार में ही सागर को पार कर जाते हैं। आप के वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि ऐसे बयान देकर पर्रिकर सेना का अपमान कर रहे हैं जिसने बार बार अपने को साबित किया है तथा 1948, 1965, 1971 तथा करगिल युद्ध में उल्लेखनीय प्रदर्शन किया।


आप ने कहा कि इस मामले में वह पर्रिकर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने के लिए पुलिस से संपर्क करेगी। आप ने यह आरोप भी लगाया कि भाजपा लक्षित हमले को लेकर राजनीति कर रही है और इस प्रकार की सैन्य कार्रवाई पहली बार नहीं हुयी थी जैसा भगवा पार्टी बता रही है। संजय सिंह ने कहा, ह्यह्य भाजपा के जीवीएल नरसिंह राव ने कहा कि पहली बार सेना को उसकी क्षमता का पता लगा है। इस प्रकार का बयान देकर, हम सेना तथा उसके बलिदान को कमतर कर रहे हैं। ऐसे बयान शर्मनाक हैं और पर्रिकर एवं राव दोनों को सशस्त्र बलों से माफी मांगनी चाहिए। सिंह ने कहा कि पिछले 15 साल में नौ बार लक्षित हमले किए गए। मिश्रा ने कहा कि क्या पर्रिकर भूल गए हैं कि सेना को 21 परमवीर चक्र तथा 63 अशोक चक्र से सम्मानित किया गया है। मिश्रा ने अपने ब्लॉग पोस्ट में कहा, ह्यह्यआपको सेना की क्षमता की जानकारी नहीं है, यही कारण है कि भाजपा ने महबूबा मुफ्ती के सामने घुटने टेक दिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 7, 2016 4:44 am

  1. वृजेश
    Oct 7, 2016 at 4:49 am
    ऐसे बेबकूफ नेताओं को तो तुरंत जेल में डाल देना चाहिए जो देश हित की ही न सोच सकते हो। वह देश दर्रोही है।
    Reply

    सबरंग