May 30, 2017

ताज़ा खबर

 

महाराष्ट्र नगर निकाय चुनाव 2017 रुझान: भाजपा को बड़ा फायदा, गलत साबित होता दिख रहा अलग लड़ने का शिव सेना का फैसला

Elections Rujhan 2017: महाराष्ट्र के नगर निकाय चुनावों में भाजपा सबसे आगे निकलती दिख रही है। वहीं उससे अलग होकर चुनाव लड़ रही शिव सेना मुंबई में उससे आगे है।

शिव सेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (बाएं) ने महाराष्ट्र नगर निकाय चुनाव में भाजपा से अपना 25 साल पुराना गठबंधन तोड़कर चुनाव लड़ा था। (फाइल फोटो)

गुरुवार (23 फरवरी) को महाराष्ट्र  की मुंबई, पुणे समेत 10 महानगरपालिकाओं, 11 जिला परिषदों और 118 पंचायत समितियों के लिए हुए मतदान के नतीजे आने शुरू हो गए हैं। शुरुआती नतीजों से भारतीय जनता पार्टी स्थानीय चुनाव में सबसे बड़ी ताकत बनकर उभरती दिख रही है। लेकिन एशिया की सबसे अमीर नगरपालिका बृहन मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) पर शिव सेना अपना कब्जा बरकरार रखने में सफल हो सकती है। भाजपा और शिव सेना ने अपना 25 साल पुराना गठबंधन तोड़कर इस बार अलग-अलग ताकत आजमाने का फैसला किया था लेकिन शुरुआत रुझान से शिव सेना का फैसला गलत साबित होता दिख रहा है।

अभी तक रुझान के अनुसार भाजपा अपने मजबूत गढ़ नागपुर के साथ ही पुणे, सोलापुर, अमरावती और नासिक महानगर पालिका पर जीत की तरफ बढ़ रही है। पुणे महानगरपालिका में इससे पहले शरद पवार की एनसीपी की कब्जा था। वहीं नासिक महानगरपालिका पर राज ठाकरे के मनसे काबिज थी। वहीं सोलापुर में कांग्रेस का कब्जा था। शुरुआती रुझान से भाजपा इन महानगरपालिकाओं को विपक्षी दलों से छीनती प्रतीत हो रही है।

BMC चुनाव नतीजे 2017: लाइव अपडेट पढ़ने के लिए क्लिक करें-

महाराष्ट्र महानगरपालिका चुनावों में भाजपा के साथ ही उसकी अलग हुई जोड़ीदार शिव सेना मुंबई महानगरपालिका और थाणे महानगरपालिका में जीत हासिल करने की तरफ बढ़ती दिख रही है। बीएमसी में अभी तक शिव सेना 59 सीटें जीत चुकी है और 35 पर आगे चल रही है। वहीं भाजपा बीएमसी में 35 सीटें जीतने के साथ 27 सीटों पर आगे चल रही है। साल 2012 में भाजपा और शिव सेना ने मिलकर बीएमसी चुनाव लड़ा था। तब शिव सेना को 70 सीटों पर और भाजपा 31 सीटों पर जीत मिली थी। वहीं कांग्रेस बीएमसी में अब तक 17 सीटें जीत चुकी है और तीन पर आगे चल रही है। बीएमसी के नतीजों जिस तरफ बढ़ रहे हैं उनसे साफ है कि गठबंधन टूटने से भाजपा को फायदा ही हुआ है, भले ही वो अकेले दम पर जीत न पायी है लेकिन इतना साफ होता दिख रहा है कि पार्टी का जनाधार बढ़ा है।

PMC चुनाव नतीजे 2017: के ताजा अपडेट जानने के लिए क्लिक करें-

शरद पवार की एनसीपी के कब्जे वाली पिंपरी चिंचवड नगर निगम (पीसीएमसी) में भाजपा उसे कड़ी टक्कर दे रही है। पीएसएमसी में  इस बार एतिहासिक रुप से पूरे राज्य में सबसे ज्यादा 67 प्रतिशत मतदान हुआ था। ऐतिहासिक मतदान के बाद एनसीपी और भाजपा दोनों ने इसे अपने समर्थन में माना था। पीसीएमसी में अभी तक मिले रुझान के अनुसार एनसीपी 22 सीटों पर आगे चल रही है। यहां दूसरे नंबर पर भाजपा है जो दो सीटें जीतकर 19 सीटों पर आगे चल रही है। वहीं शिव सेना पांच सीटों पर आगे चल रही है।

वीडियो: BMC चुनाव 2017: आमिर खान के विज्ञापन पर मचा बवाल, शिवसेना और कांग्रेस खफा

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on February 23, 2017 2:15 pm

  1. No Comments.

सबरंग