May 30, 2017

ताज़ा खबर

 

शिवसेना की मोदी को अमित शाह की संपत्ति सार्वजनिक करने की चुनौती, भाजपा ने किया पलटवार

शिवसेना नेता ने कहा. 'अगर भाजपा के पास साहस है तो वे ठाकरे परिवार की संपत्ति और उनके वित्त की जांच करें।’

Author मुंबई | February 16, 2017 21:28 pm
Thane Election Result 2017: शिव सेना प्रमुख उद्धव ठाकरे। (फाइल फोटो)

शिवसेना ने गुरुवार (16 फरवरी) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और अन्य शीर्ष पार्टी नेताओं की संपत्ति सार्वजनिक करने और उद्धव ठाकरे की संपत्ति और वित्त की जांच कराने की चुनौती दी। इस पर प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा ने कहा कि पार्टी अध्यक्ष के पाई-पाई का हिसाब पहले ही सार्वजनिक किया जा चुका है। शिवसेना सांसद राहुल शेवाले ने संवाददाताओं से कहा, ‘भाजपा ठाकरे परिवार और अन्य शिवसेना नेताओं पर भ्रष्टाचार के निराधार आरोप लगा रही है।’ उन्होंने कहा, ‘इस तरह के दावों से पूर्व मैं प्रधानमंत्री मोदी से अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय नेताओं की संपत्ति सार्वजनिक करने की चुनौती देता हूं।’ शिवसेना नेता ने कहा, ‘केंद्र और महाराष्ट्र में भाजपा की सरकार है। अगर भाजपा के पास साहस है तो वे ठाकरे परिवार की संपत्ति और उनके वित्त की जांच करें।’

शेवाले ने कहा, ‘मुख्यमंत्री को साक्ष्य के साथ बात करनी चाहिए, यह सोचकर कुछ भी नहीं बोल देना चाहिए कि वे इससे बच जाएंगे। इस तरह के आरोप लगाकर वह पहले ही हार स्वीकार कर चुकी है।’ इसके जवाब में भाजपा प्रवक्ता माधव भंडारी ने कहा, ‘ऐसा प्रतीत होता है कि शिवसेना अमित शाह के वर्ष 2012 के चुनावी हलफनामे को भूल चुकी है। बहरहाल, उनकी मांगों को पूरी करने के लिए हम एक बार फिर उनके हलफनामे को जारी कर रहे हैं।’ उन्होंने कहा, ‘जहां तक ठाकरे परिवार की संपत्ति की जांच की बात है, हमने अब तक जांच करने की बात नहीं कही है और उनको ऐसा करने के लिए हमें बाध्य नहीं करना चाहिए।’ महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने बुधवार (15 फरवरी) को ठाकरे से संपत्ति सार्वजनिक करने की मांग की थी और आरोप लगाया था कि ‘मराठी मानुस’ की लड़ाई के नाम पर शिवसेना अमीर होती जा रही है।

बीजेपी ने शिवसेना के मुखपत्र 'सामना' पर तीन दिन के लिए बैन लगान की मांग की

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on February 16, 2017 9:28 pm

  1. B
    bitterhoney
    Feb 17, 2017 at 3:25 am
    देशभक्ति पर गर्व करने वालों को तुरंत अपनी संपत्ति को सार्वजानिक करना चाहिए. यह भी बताना चाहिए कि देशभक्त (नेता) बनने से पहले उनकी संपत्ति क्या थी और देशभक्त (नेता) बनने के बाद अब उनकी संपत्ति क्या है.
    Reply

    सबरंग