December 03, 2016

ताज़ा खबर

 

केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा- मैंने अपने अधिकारियों से कह दिया है, करो या मरो

नरेंद्र मोदी सरकार ने मौजूदा वित्त वर्ष में प्रतिदिन 40 किलोमीटर सड़क निर्माण का लक्ष्य रखा है।

केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी (फाइल फोटो)

बीजेपी नेता और केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने मुंबई में सोमवार (7 सितंबर) को एक कार्यक्रम में कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार 2014 के लोक सभा चुनाव में किए गए आर्थिक विकास के वादों को पूरा करने के लिए सड़क, बंदरगाह और हवाईअड्डों के निर्माण पर पूरा जोर लगा रही है। गडकरी ने कहा कि अगर भारत को दुनिया की सबसे तेजी से विकसित अर्थव्यस्था बने रहना है तो उसे सड़क और बंदरगाह से जुड़ी योजनाओं पर ध्यान देना होगा। गडकरी ने अंतरराष्ट्रीय मीडिया संस्थान ब्लूमबर्ग के एक कार्यक्रम में कहा, “अभी आधारभूत ढांचा क्षेत्र में ब्याज की दर 11 प्रतिशत है जो आदर्श नहीं है। इस सेक्टर के लिए आदर्श दर सात प्रतिशत से कम होनी चाहिए।”  गडकरी ने कहा कि मोदी सरकार का मकसद कारोबार में सहूलियत को बढ़ाना है।

गडकरी ने कार्यक्रम में बताया कि केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्रालय इस साल दिसंबर तक करीब दो लाख किलोमीटर लंबाई की सड़कों का निर्माण कराना चाहता है। इनके तहत दक्षिण एशिया के कई देश आएंगे। विदेश निवेशको को ध्यान में रखते हुए सरकार 101 टोल रोड की अनुमति देगी। गडकरी के अनुसार भारत में ऊंची ब्याज दरों की वजह से विदेशी कर्ज सस्ता पड़ता है। केंद्र सरकार इस साल परिवहन सेक्टर में किए पिछले तीन सालों के औसत खर्च से तीन गुना अधिक खर्च करने वाली है।

वीडियो: बीजेपी की परिवर्तन यात्रा में डांस गर्ल ने लगाए ठुमके-

ब्लूमबर्ग इंटेलीजेंस एनालिसिस के अनुसार भारत की केवल 55-60 प्रतिशत सड़कों के किनारे फुटपाथ हैं। जबकि चीन के 45 लाख किलोमीटर लंबे सड़क जाल का एक तिहाई से अधिक पूरी तरह पक्का है। एजेंसी के अनुसार अगले साल पांच राज्यों में होने वाले विधान सभा चुनाव और 2019 में होने वाले लोक सभा चुनाव से पहले परिवहन क्षेत्र नरेंद्र मोदी सरकार के लिए  रोजगार निर्माण के लिए काफी अहम है। भारत का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की विकास दर सात प्रतिशत से अधिक है। हालांकि आधारभूत ढांचा क्षेत्र में भारत चीन और इंडोनेशिया जैसे देशों से पीछे है। गडकरी ने कहा कि परिवहन क्षेत्र में विकास भारत की स्थिति बेहतर बनाने में अहम है।

गडकरी के अनुसार केंद्र सरकार ने मौजूदा वित्त वर्ष में प्रतिदिन 40 किलोमीटर सड़क निर्माण का लक्ष्य रखा है। उन्होंने बताया कि  देश की 95 प्रतिशत सड़क परियोजनाएं ठीक चल रही हैं। दो साल पहले केंद्र में मोदी सरकार के आने से पहले प्रति दिन सड़क निर्माण तीन किलोमीटर प्रतिदिन तक सिमट गया था। तो क्या सरकार ये लक्ष्य प्राप्त कर पाएगी? इस पर गडकरी ने कहा, “मंत्री के तौर बड़े लक्ष्य रखना और उन्हें पूरा करना ये मेरी जिम्मेदारी है।” काम में हीलाहवाली करने वाले अफसरों पर टिप्पणी करते हुए गडकरी ने कहा, “मैंने उनसे कह दिया है कि मैं मंत्री हूं, या तो करो या मरो।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 8, 2016 3:41 pm

सबरंग