April 29, 2017

ताज़ा खबर

 

मध्‍य प्रदेश: दसवीं की बोर्ड परीक्षा का विज्ञान का पर्चा लीक, सरकार दबा रही मामला

परीक्षा लीक होने की खबर आते ही जिले में हड़कंप मच गया। परीक्षा केंद्रों के बाहर भी छात्रा मोबाइल में पेपर देखते हुए दिखाई दिए। जिले भर में यह सूचना तेजी से फेल गई।

9वीं और 11वीं कक्षाओं के पेपर अमरपाटन जिला के सतना में वाट्सएप पर वायरल हुआ था।

मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल के दसवी कक्षा के विज्ञान विषय का पेपर लीक होने के मामले पर सरकार पूरी तरह इस बात को खारिज करने पर अड़ गई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शुक्रवार को एमपी बोर्ड के दसवीं कक्षा के विज्ञान विषय की परीक्षा हुई थी। जिसके बाद खबर आई थी कि परीक्षा शुरु होने से पहले ही प्रश्न पत्र व्हाट्सएप पर लीक हो गई है। लेकिन कुछ देर बाद ही आला अधिकारी और मंत्री इस दावे को खारिज करने में जुट गए। बता दें कि एक दिन पहले ही राज्य में 9वीं और 11वीं कक्षा की परीक्षा हुई थी। उसमें भी प्रश्न पत्र लीक होने की बात सामने आई थी। इसके बाद मीडिया के दवाब में सरकार को परीक्षा रद्द करनी पड़ी थी। बोर्ड के आला अधिकारी और मंत्री दसवीं कक्षा के विज्ञान विषय की परीक्षा लीक होने के दावे को इसलिए खारिज कर रहे हैं क्योंकि उन्हें फिर से परीक्षा रद्द करनी पड़ेगी।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, एमपी बोर्ड के दसवीं कक्षा के विज्ञान विषय का प्रश्न पत्र परीक्षा शुरू होने से पहले ही व्हाट्सएप पर वायरल हो गया था। पहले इस पेपर के सही होने की कोई पुष्टि नहीं हो रही थी। लेकिन परीक्षा शुरू होने पर जब विज्ञान विषय का पेपर व्हाट्सएप पर वायरल हो रहे पेपर से मैच किया गया तो वो हुबहु वैसा ही था। हालांकि, यह पेपर सिर्फ मुरैना जिले में लीक हुआ है। लेकिन इसकी अभी अधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है कि ये किसी और जिले में भी लीक हुआ है या नहीं।

परीक्षा लीक होने की खबर आते ही जिले में हड़कंप मच गया। परीक्षा केंद्रों के बाहर भी छात्रा मोबाइल में पेपर देखते हुए दिखाई दिए। जिले भर में यह सूचना तेजी से फेल गई। पहले अधिकारी पेपर लीक होने की बात को अफवाह बताते रहे। लेकिन जैसे ही परीक्षा केंद्र में पेपर खुला तो व्हाट्सएप पर वायरल हुई फोटो से मिलान करने पर अधिकारी हैरान रह गए।

गौरतलब है कि इससे पहले सोमवार को दसवीं का गणित विषय का पेपर भी परीक्षा शुरू होने के कुछ देर बाद ही व्हाट्सएप पर वायरल हो गया था। यह पेपर मुरैना में एक विद्यार्थी के मोबाइल पर मिला। इसके बाद प्रदेशभर में पेपर लीक होने की खबर फैल गई। सूचना मिलते ही जिला प्रशासन के अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने परीक्षार्थी के पास से मोबाइल जब्त कर लिया। परीक्षा संपन्न होने के बाद जब ओरिजनल पेपर और परीक्षार्थी के पास मिले पेपर का मिलान किया गया तो दोनों एक ही निकले। इससे बोर्ड के अधिकारियों में भी हड़कंप मच गया। हालांकि, देर शाम बोर्ड के अधिकारियों ने पेपर लीक होने की बात से इनकार कर दिया था।

देखिए वीडियो - बिहार स्टाफ परीक्षा का पर्चा लीक; पुलिस ने आयोग के सचिव को हिरासत में लिया

ये वीडियो भी देखिए - मध्य प्रदेश: जिन्न का नहीं स्कूल टीचर का था बच्चा, छात्रा और परिजन बता रहे थे जिन्न की संतान

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on March 10, 2017 8:27 pm

  1. No Comments.

सबरंग