ताज़ा खबर
 

मध्‍य प्रदेश: रंगे हाथ 12 लाख रुपए कैश और 10 लाख का सोना लेते पकड़े गए कमिश्‍नर

उन्होंने कहा कि इसके बाद, अग्रवाल ने इसकी शिकायत लोकायुक्त पुलिस से की, जिसके बाद लोकायुक्त पुलिस ने जाल बिछाया और कथूरिया को रिश्वत लेते हुए उसी के निवास पर पकड़ा।
Author June 26, 2017 20:37 pm
चित्र का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।

लोकायुक्त पुलिस ने मध्य प्रदेश के सतना नगर निगम आयुक्त को सोमवार (26 जून) को यहां कथित रूप से 12 लाख रुपये नकद एवं 10 लाख रुपये मूल्य का सोने के जेवरात रिश्वत में लेते हुए पकड़ा है। लोकायुक्त पुलिस उप अधीक्षक दिवेश पाठक ने बताया कि सतना जिले की लोकायुक्त पुलिस की टीम ने सतना नगर निगम आयुक्त सुरेन्द्र कुमार कथूरिया को आज उसी के सरकारी निवास पर 12 लाख रुपये नकद एवं 10 लाख रूपये मूल्य का तथाकथित सोने के जेवरात रिश्वत लेते हुए पकड़ा है।

उन्होंने कहा कि कथूरिया ने कथित रूप से अतिक्रमण कर बनाये गये एक नर्सिंग होम की इमारत के एक हिस्से को न तोड़ने के लिए 40 लाख रुपये नकद एवं 10 लाख मूल्य के सोने के जेवरात की रिश्वत लेने की मांग र्निसंग होम के मालिक से की थी। पाठक ने बताया, ”सतना नगर निगम आयुक्त कथित रूप से 12 लाख रुपये नकद एवं 10 लाख रुपये मूल्य का तथाकथित सोने के जेवरात रिश्वत लेते हुए पकडे़ गये हैं।”

उन्होंने कहा कि नर्सिंग होम के मालिक डाक्टर राजकुमार अग्रवाल से उसके नर्सिंग होम के एक हिस्से को न तोड़ने के एवज में नगर निगम आयुक्त ने 40 लाख रुपये नगद एवं 10 लाख रुपये मूल्य के जेवरात रिश्वत के तौर पर मांगे थे। पाठक ने बताया कि हालांकि, अग्रवाल ने आयुक्त से कहा था कि वह इतनी बड़ी रकम नहीं दे सकता है, लेकिन वह फिर भी नहीं माना।

उन्होंने कहा कि इसके बाद, अग्रवाल ने इसकी शिकायत लोकायुक्त पुलिस से की, जिसके बाद लोकायुक्त पुलिस ने जाल बिछाया और कथूरिया को रिश्वत लेते हुए उसी के निवास पर पकड़ा। पाठक ने बताया कि आरोपी के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक कानून के तहत मामला दर्ज किया गया है।

देखिए वीडियो - मध्य प्रदेश: बीजेपी कार्यकर्ताओं ने विरोधियों की दीवारों पर लिखा- ‘मेरा घर, भाजपा का घर’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग