June 23, 2017

ताज़ा खबर
 

300 रुपये पेंशन लेने बैंक की लाइन में खड़ी बुजुर्ग महिला की मौत, एम्बुलेन्स नहीं मिला तो परिजन बाइक पर ले गए लाश

इतनी गर्मी में काफी देर तक धूप में खड़े रहने के कारण बुजुर्ग महिला की तबियत बिगड़ी और वह बेहोश होकर गिर पड़ी।

पुलिस का कहना है कि युवक हत्या मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। (Representative Image)

मध्य प्रदेश में पेंशन लेने के लिए बैंक की लाइन में खड़ी महिला की मौत हो गई। यह मामला सीधी जिले का है जहां पर मध्यांचल बैंक की शाखा में 70 वर्षीय बदमिया केवट पेंशन के 300 रुपए लेने पहुंची थी। करीब दो घंटे तक वह धूप में पेंशन लेने के लिए बाहर लाइन में खड़ी रही। इसी दौरान महिला की तबियत बिगड़ने लगी और वह बेहोश होकर जमीन पर गिर पड़ी। इतने कोई कुछ सोच या समझ पाता उतने में महिला ने दम तोड़ दिया। ईटीवी के अनुसार महिला के शव को ले जाने के लिए एम्बुलेंस को बुलाया गया लेकिन वह नहीं आई। जब काफी देर तक एम्बुलेंस नहीं आई तब महिला के परिजन उसके शव को बाइक पर लेकर गए।

वहां मौजूद लोगों का कहना है कि कई बुजुर्ग बहुत देर से बैंक की लाइन में खड़े हुए थे और बैंक के अंदर भी वेंटिलेशन का कोई इंतजाम नहीं था। उन्होंने कहा कि इस कारण बैंक के ग्राहकों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। इतनी गर्मी में काफी देर तक धूप में खड़े रहने के कारण बुजुर्ग महिला की तबियत बिगड़ी और वह बेहोश होकर गिर पड़ी। चश्मदीदों ने बताया कि महिला के बेहोश होकर गिर जाने के बाद भी बैंक कर्मचारियों ने उसकी सुद नहीं ली और किसी ने भी आगे आकर महिला की मदद करने की कोशिश नहीं की, जिसके कारण उसकी मौत हो गई।

लोगों ने इसकी सूचना पुलिस और बुजुर्ग महिला के परिजनों को दी। मौत की खबर सुनते ही परिजन मौके पर पहुंचे। परिजनों ने शव को ले जाने के लिए एम्बुलेंस को फोन किया। इतना ही नहीं परिजनों ने मदद के लिए जिला प्रशासन से भी गुहार लगाई लेकिन किसी ने उनकी मदद नहीं की। जब कहीं से भी मदद नहीं मिली तो परिजनों ने बुजुर्ग महिला के शव को बाइक पर लेकर जाने का फैसला किया। इससे साफ दिखाई देता है कि लोगों में इंसानियत न के बराबर बची है। प्रशासन भी इस मामले में मदद करने के लिए असमर्थ रहा।

देखिए वीडियो - एमपी: नोटबंदी खत्म होने के बाद भी बैंक नहीं दे रहा कैश, परिजनों ने दी फांसी लगाने की धमकी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on April 18, 2017 3:43 pm

  1. No Comments.
सबरंग