ताज़ा खबर
 

उज्‍जैन ट्रेन ब्‍लास्‍ट: आतंकियों ने सीरिया भेजी थी बम की फोटो, जांच के लिए भोपाल पहुंची NIA की टीम

सीएम शिवराजसिंह ने घटना को अंजाम देने वाले आतंकियों का संबंध आईएस से होने की बात भी कही है।
भोपाल-उज्जैन पैसेंजर ट्रेन में मंगलवार (7 मार्च) को हुआ विस्फोट।

मंगलवार को भोपाल-उज्जैन पैसेंजर ट्रेन में हुई बम ब्लास्ट के बाद घटनास्थल की जांच के लिए एनआईए की टीम बुधवार (8 मार्च, 2017) को भोपाल पहुंच गई है। एनआईए की टीम पिपरिया में गिरफ्तार आतंकियों से पूछताछ करेगी। घटनास्थल पर पहुंचकर जांच भी करेगी। सीएम शिवराजसिंह ने घटना को अंजाम देने वाले आतंकियों का संबंध आईएस से होने की बात भी कही है। उन्होंने बताया है कि पकड़े गये आंतकियों ने अपने मोबाइल से बम प्लांट करने की फोटो सीरिया भेजी थी। गृहमंत्री भूपेन्द्र सिंह ने एमपी पुलिस की तारीफ करते हुए कहा है कि प्रदेश सहित देश में पैर पसार रहे आईएस के नेटवर्क को तबाह करने में एमपी पुलिस और खुफिया एजेंसियों ने बेहतर काम किया है।

भोपाल-उज्जैन पैसेंजर ट्रेन में हुए बम ब्लास्ट की जांच के लिए एनआईए की टीम भोपाल पहुंच गई है। धमाके की जांच कर रहे अधिकारियों से मुलाकात भी एनआइए की टीम कर रही है। पिपरिया से गिरफ्तार तीनों आतंकियों से पूछताछ भी करेगी। इन तीनों आतंकियों को कल ही पिपरिया से भोपाल लाया गया था। भोपाल में अधिकारियों से जानकारी और आतंकियों से पूछताछ के बाद एनआइए का दल घटनास्थल पर रवाना होगा। साथ ही धमाके की जांच करेगा।

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार तीनों संदिग्ध आतंकियों से पूछताछ में पता चला है कि इन आतंकियों का आईएस से संबंध था। आतंकियों ने ट्रेन में पाइप बम रखा और पिपरिया के लिए रवाना हो गये थे। आतंकियों के मोबाइल से जानकारी मिली है कि कि आतंकियों ने बम रखने के बाद पाइप बम की फोटो सीरिया भेजी थी। पुलिस का कहना है कि लखनऊ में मारे गये आतंकी के पास से मिला भारतीय रेल का नक्शा और आईएस का झंडा भी बरामद किया गया है।

उधर, गृहमंत्री भूपेन्द्र सिंह ने ट्रेन ब्लास्ट मामले में मध्यप्रदेश पुलिस की कार्रवाई की सराहना की है। आईएस के प्रदेश ही नहीं, बल्कि देश में फैलने जा रहे नेटवर्क को तबाह करने का काम प्रदेश की पुलिस और ख़ुफ़िया एजेंसी ने किया है। मीडिया को बताया कि तीन लोगों की गिरफ्तारी मध्यप्रदेश पुलिस ने की है। मध्यप्रदेश पुलिस के इनपुट पर यूपी में भी गिरफ्तारियां की गई हैं। विधानसभा में भी संसदीय कार्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने मध्यप्रदेश पुलिस को रेल ब्लास्ट की घटना के बाद पांच घंटे बाद ही तीन आरोपियों को पकड़ने के लिए बधाई दी है।

ISIS से जुड़े लखनऊ एनकाउंटर और भोपाल ट्रेन ब्लास्ट के तार!

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग