ताज़ा खबर
 

8वीं के छात्र ने लिखी पीएम को चिट्ठी, पूछा- मोदी अंकल! मेरी पढ़ाई से ज्यादा जरूरी है आपकी रैली?

पीएम मोदी स्वतंत्रता सेनानी चंद्रशेखर आजाद की जन्मस्थली पर जाएंगे। वहां पर पीएम मोदी भाभरा गांव में '70 साल आजादी, याद करो कुर्बानी' कैम्पेन की शुरुआत करेंगे।
Author खंडवा | August 9, 2016 12:11 pm
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (Photo Source: Reuters)

पीएम मोदी की रैली में लोगों को लाने और ले जाने के लिए स्कूल की बसों को लगाए जाने से नाराज एक बजे ने पीएम को पत्र लिखा है। मध्यप्रदेश के खंडवा के रहने वाले देवंश जाने ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर पूछा है, ‘क्या आपकी मिटिंग स्कूल से ज्यादा महत्वपूर्ण है?’ कक्षा 8 के स्टूडेंट देवांश का पीएम मोदी को लिखा पक्ष सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। इसके बाद प्रशासन ने उस आदेश को निरस्त कर दिया, जिसमें कहा गया था पीएम मोदी के इवेंट में स्कूल बसें भेजी जाएं।

बता दें, पीएम मोदी स्वतंत्रता सेनानी चंद्रशेखर आजाद की जन्मस्थली पर जाएंगे। वहां पर पीएम मोदी भाभरा गांव में ’70 साल आजादी, याद करो कुर्बानी’ कैम्पेन की शुरुआत करेंगे। देवांश उस वक्त निराश हो गए जब टीचर्स ने छात्रों को बताया कि उनका स्कूल मंगलवार और बुधवार को बंद रहेगा। इसके पीछे वजह स्कूल की बसों की ड्यूटी अलिराजपुर में पीएम मोदी की रैली में लोगों को लाने और ले जाने के लिए लगाई गई है।

पीएम मोदी को लिखे पत्र में देवांश ने कहा है, ‘मैंने अमेरिका में आपका भाषण सुना है, जहां बहुत सारे लोग मौजूद थे। लेकिन वे लोग वहां पर स्कूल बसों से नहीं आए थे।’ अपने आपको मोदी फैन बताते हुए देवंश ने कहा मैं आपकी रेडियो शो मन की बात का एक भी शो मिस नहीं करता। हालांकि, क्लास के दोस्त उन्हें इसके लिए चिढ़ाते थे, जिसके लिए वह उनसे लड़ लेता है।

Read Also: यूपी के सीएम अखिलेश यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखा पत्र

देवांश ने पीएम मोदी से अपील की है कि वे ‘शिवराज मामा’ (एमपी सीएम) से कहे कि स्कूल की बसों का रैली में इस्तेमाल ना किया जाए। साथ कही कहा, ‘आप कांग्रेस नेताओं की तरह नहीं है, आप हमारी पढ़ाई और भविष्य की चिंता करते हैं। अगर आप ऐसा करते हैं तो मैं कहूंगा कि मेरे मोदी अंकल की रैली में भीड़ अपने वाहनों से आई थी और यह भीड़ मैनेज की हुई नहीं थी।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग