March 28, 2017

ताज़ा खबर

 

भोपाल-उज्जैन पैसेंजर ट्रेन में हुआ ब्लास्ट आंतकी हमला, लखनऊ-कानपुर से जुड़े तार, 3 संदिग्ध पकड़े गए

ब्लास्ट भोपाल-उज्जैन 59320 पैसेंजर में एक मोबाइल में ब्लास्ट हुआ जिसकी छानबीन की जा रही है। यह ब्लास्ट शाजापुर के कालापीपल के पास हुआ है। सभी आला अधिकारी मौके पर पहुँच गए हैं। ब्लास्ट में 6 लोग घायल हुए हैं।

भोपाल-उज्जैन पैसेंजर ट्रेन में मंगलवार (7 मार्च) को हुआ विस्फोट।

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से उज्जैन के लिए चली भोपाल-उज्जैन पैसेंजर ट्रेन ब्लास्ट आतंकियों की साजिश थी। मध्य प्रदेश के आईजी लॉ एंड ऑर्डर मकरंद देवसकर ने बताया कि भोपाल-उज्जैन पैसेंजर ब्लास्ट एक आतंकी हमला था। यह एक आईईडी ब्लास्ट था। अाईईडी ब्लास्ट हमेशा एक आतंकी हमला होता है। यह कम तीव्रता वाला विस्फोट था। ब्लास्ट में पिपरिया से तीन संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया है।  मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ब्लास्ट के तार कानपुर और लखनऊ से जुड़े हुए बताए जा रहे हैं। ब्लास्ट में आधा दर्जन से ज्यादा लोगों के घायल हो गए थे। यह बलास्ट मध्य प्रदेश के शाजापुर में हुआ। इससे पहले ब्लास्ट के पीछे सिमी का हाथ होने की आशंका जताई गई थी।

जानकारी के मुताबिक सीहोर स्टेशन पार करने के बाद ट्रेन कालापीपल के पहले पड़ने वाले जबड़ी स्टेशन पर पहुंची तो पिछले डिब्बे में तेज धमाका हुआ। जिसके बाद लोग जान बचाने के लिए ट्रेन से कूदे। इस दौरान कई लोग घायल हो गए।ब्लास्ट के बाद सभी आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए। ब्लास्ट में 8 लोग घायल हुए हैं। कुछ रिपोर्ट्स भी सामने आया था कि ट्रेन में एक सूटकेस मिला है। जिसका कोई मालिक नहीं है। इसकी भी जांच की जा रही थी।

मामले में गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा है कि पुलिस मौके पर पहुंच गई है और मामले की जांच कर रही है। भोपाल से रेलवे की इमरजेंसी एम्बुलेन्स भी रवाना कर दी गई है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक ट्रेन में ब्लास्ट होने के तुरंत बाद ग्रामीण राहत एवं बचाव कार्य के लिए मौके पर पहुंच गए। मौके पर पहुंची रेलवे की टीम ने ट्रेन के दो डिब्बों के गाड़ी से अलग कर। ट्रेन को उज्जैन के लिए रवाना कर दिया।

ब्लास्ट के संबंध में जानकारी देते हुए भोपाल डिवीजन के प्रवक्ता आई ए सिद्दीकी ने बताया कि घायल यात्रियों को कालापीपल सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मेडिकल टीमें मौके पर पहुंच चुकी हैं। वहीं, मध्य प्रदेश सरकार ने हादसे में घायल लोगों को मुआवजा देने का ऐलान किया है। सरकार ने घायलों को 25 हजार रुपए और गंभीर रूप से घायल हुए लोगों को 50 हजार रुपए की सहायता राशि देने की घोषण की है।

पिछले साल हुए ट्रेन हादसे में सामने आया था आईएसआई कनेक्शन
पिछले साल नवंबर के महीने में कानपुर में हुए भीषण ट्रेन हादसे के बारे में बिहार पुलिस ने सनसनीख़ेज़ खुलासा किया था। बिहार पुलिस के मुताबिक कानपुर रेल हादसा असल में आतंकी साज़िश थी, जिसे पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई ने अंजाम दिया था। बिहार पुलिस ने मोतिहारी जिले से मोती पासवान नाम के एक शख्स को गिरफ़्तार किया था, जिसने कबूल किया है कि उसी ने कानपुर में रेल पटरी को बम धमाके से उड़ाया था।

 

ISIS से जुड़े लखनऊ एनकाउंटर और भोपाल ट्रेन ब्लास्ट के तार!

 

मध्य प्रदेश: भोपाल-उज्जैन पैसेंजर ट्रेन में धमाका, कई लोग घायल

वीडियो: आंध्र प्रदेश में बड़ा ट्रेन हादसा, 8 कोच पटरी से उतरे, 39 की मौत

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on March 7, 2017 11:51 am

  1. S
    sk
    Mar 7, 2017 at 7:24 am
    ब्लास्ट होते ही बिना जाँच के ही सिमी का हाथ हो गया , जाओ रे मीडिया दलालो , पहले जाँच तो हो जाने दो फिर जो सत्य है वही कहना
    Reply
    1. B
      Be Logical
      Mar 7, 2017 at 1:11 pm
      Kaun sa simi koi Dharm sangathan hai bhai ki Dil me itni Aag LG hai...Kuch connection hai kya
      Reply
    2. R
      Raghuvansi
      Mar 7, 2017 at 4:01 pm
      Jaroor simi ka haath hoga ... Yahan comments karne walon ka main dard ho raha hoga ki simi ka naam le raha hai kyonki tumlogon ka dharam Bhai hai na... Abe sare musalmaan katwa simi ka member hai .... Ab uwon tumlogon ka yahosiyon jaisa haal karne ka waqt aaa hai ... Jai hind .... Better change ur religion then will safe
      Reply

      सबरंग