December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

मध्य प्रदेश: कस्टडी में पुलिसवालों ने जूते चाटने को किया था मजबूर, दुखी टीचर ने किया सुसाइड

मध्यप्रदेश में पुलिस कस्टडी के दौरान झेली गईं यातनाओं से दुखी होकर एक टीचर ने सुसाइड कर लिया।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतिकात्मक रूप से किया गया है।

मध्यप्रदेश में पुलिस कस्टडी के दौरान झेली गईं यातनाओं से दुखी होकर एक टीचर ने सुसाइड कर लिया। जिस टीचर ने यह हैरान कर देने वाला कदम उठाया उसका नाम मनोज पुरोहित था। वह शिवपुरी जिले में एक प्राइवेट स्कूल में पढ़ाता था। मनोज के पास से एक सुसाइड नोट मिला था जिसमें उसने बताया था कि पुलिस कस्टडी के दौरान उसे ना सिर्फ बुरी तरह पीटा गया बल्कि पुलिसवालों के जूते चाटने के लिए भी मजबूर किया। मिली जानकारी के मुताबिक, मनोज साजापुर प्राइमरी स्कूल में पढ़ाता था। उसे पुलिस ने जुआ खेलने के आरोप में पुलिस ने पकड़ा था। जानकारी मिली है कि मनोज की पहले पुलिसवालों से किसी बात को लेकर बहस हुई थी। पुलिस की एक प्राइवेट बस सर्विस की कंपनी भी है।

30 साल के पुरोहित ने 30 अक्टूबर को जहर खाया था और फिर झांसी हॉस्पिटल में गुरुवार को उनकी मौत हो गई थी। अपने सुसाइड नोट में मनोज ने पांच पुलिसवालों और एक पत्रकार का नाम लिया। मध्य प्रदेश के मानव अधिकार कमीशन ने इस मामले को लेकर ग्वालियर रेंज के आईजीपी और एसपी को लिखा है। उन्होंने 29 नवंबर की उस घटना के बारे में जानकारी मांगी है।

वीडियो: OROP को लेकर पूर्व सैनिक के सुसाइड पर चढ़ा सियासी पारा, हिरासत में लिए जाने के बाद छोड़े गए राहुल गांधी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 5, 2016 3:22 pm

सबरंग