ताज़ा खबर
 

चित्रकूट जीत पर कांग्रेस दफ्तर में लगे नारे- बीजेपी के लग गये काम, जय श्रीराम, जय श्रीराम

भाजपा की तरह कांग्रेस द्वारा भी सत्ता के लिये भगवान राम का सहारा लेने के सवाल पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरूण यादव ने मीडिया से कहा कि भगवान राम पर किसी का एकाधिकार नहीं हैं और हम भगवान राम के सच्चे उपासक हैं।
Author November 13, 2017 10:07 am
मध्य प्रदेश के चित्रकूट विधानसभा उपचुनाव में विजयी कांग्रेस उम्मीदवार नीलांशु चतुर्वेदी (नीले जैकेट में) फोटो-पीटीआई

मध्य प्रदेश के चित्रकूट उपचुनाव में कांग्रेस की जीत के बाद मध्यप्रदेश कांग्रेस मुख्यालय इंदिरा भवन के बाहर जश्न का माहौल देखा गया। पटाखे चलाकर और मिठाई बांटकर कांग्रेस कार्यकर्ता एक दूसरे को बधाई दे रहे हैं। कार्यकर्ता नारे लगा रहे थे, ‘‘बीजेपी के लग गये काम, जय श्रीराम, जय श्रीराम’’। मालूम हो कि हिन्दू धर्मग्रंथों के अनुसार चित्रकूट क्षेत्र में भगवान राम ने अपने वनवास काल के लगभग 12 साल गुजारे थे। कांग्रेस ने मध्यप्रदेश के चित्रकूट विधानसभा सीट के लिए हुए उपचुनाव में इस सीट पर अपना कब्जा बरकरार रखा है। अगले महीने गुजरात और 2018 में मध्य प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिहाज से कांग्रेस की यह जीत अहम मानी जा रही है। निर्वाचन अधिकारी ए के द्विवेदी ने बताया कि कांग्रेस उम्मीदवार को 66,810 मत हासिल हुए तथा भाजपा प्रत्याशी त्रिपाठी को 52,677 वोट मिले। कांग्रेस विधायक प्रेम सिंह के निधन के कारण इस सीट पर नौ नवंबर को उपचुनाव कराया गया था, जिसमें 65 फीसदी मतदान हुआ था। इस

भाजपा की तरह कांग्रेस द्वारा भी सत्ता के लिये भगवान राम का सहारा लेने के सवाल पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरूण यादव ने मीडिया से कहा कि भगवान राम पर किसी का एकाधिकार नहीं हैं और हम भगवान राम के सच्चे उपासक हैं। उन्होंने कहा, ‘‘राम सच्चे और सही लोगों का साथ देते हैं, न कि भ्रष्ट लोगों का।’’ वहीं, दूसरी ओर हमेशा चहल पहल भरा रहने वाला प्रदेश भाजपा कार्यालय दीनदयाल परिसर आज सुना सा दिखाई दिया। प्रदेश में सत्ताधारी भाजपा के लिये चित्रकूट की पराजय खतरे की घंटी मानी जा रही है, क्योंकि अभी शिवपुरी जिले के कोलारस विधानसभा और अशोकनगर जिले के मुंगावली विधानसभा क्षेत्र में उपचुनाव की घोषणा होना बाकी है। इन दोनों सीटों से कांग्रेस के विधायकों के निधन के कारण यहां उपचुनाव आवश्यक हो गये हैं।

चित्रकूट उपचुनाव में भाजपा की पराजय को स्वीकार करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट किया, ‘‘चित्रकूट उपचुनाव में जनता के निर्णय को शिराधार्य करता हूं। जनमत ही लोकतंत्र का असली आधार है। जनता के सहयोग के लिये आभार व्यक्त करता हूं। चित्रकूट के विकास में किसी तरह की कमी नहीं होगी। प्रदेश के कोने-कोने का विकास ही मेरा परम ध्येय है।’’ चित्रकूट की विजय से प्रसन्न मध्यप्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा, ‘‘कांग्रेस के समस्त नेताओं और जनता के आर्शीवाद से भगवान राम की तपस्थली से प्रदेश में कांग्रेस पार्टी का वनवास समाप्त हुआ है। मुख्यमंत्री ने यहां जहां-जहां सभाएं लीं, वहां भी कांग्रेस पार्टी जीती है। भाजपा उम्मीदवार अपने गांव और अपने ससुराल के गांव से भी हारे हैं।’’ मध्यप्रदेश में अगले साल प्रस्तावित विधानसभा चुनावों के लिये मुख्यमंत्री का चेहरा बनाये जाने के सवाल पर अजय सिंह ने कहा, ‘‘मैं पार्टी का सबसे छोटा कार्यकर्ता हूं, मैं कोई चेहरा नहीं हूं।’’ इस उपचुनाव को प्रतिष्ठा का प्रश्न बनाने के सवाल पर सिंह ने कहा, ‘‘ शिवराज सिंह चौहान ने इसे प्रतिष्ठा का प्रश्न बनाया था। इस उपचुनाव के नतीजों से लगता है, मध्यप्रदेश की जनता अब बदलाव चाहती है।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. M
    manish agrawal
    Nov 12, 2017 at 8:00 pm
    जनता ने "नमामि नर्मदे" के ढोंग को नकार दिया ! योगीजी की कामदगिरि परिक्रमा और चित्रकूट में मनाई गयी दिवाली भी, बीजेपी को फतह नहीं दिलवा पायी ! मंदसौर में क़र्ज़ में डूबे गरीब किसानों पर फायरिंग भी करवाई गयी थी ! जनता धीरे धीरे फ़िरक़ापरस्त ताक़तों की हक़ीक़त समझती जा रही है !
    (13)(2)
    Reply