December 02, 2016

ताज़ा खबर

 

सिमी सदस्यों का एनकाउंटर: सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा- दूसरी शादी के बाद मानसिक संतुलन खो बैठे हैं दिग्विजय सिंह

कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने जेल से फरार हुए सिमी सदस्यों के एनकाउंटर पर सवाल खड़े किए थे। उन्होंने पूछा था कि "सिमी सदस्य जेल से खुद फरार हुए थे या इसके पीछे किसी का हाथ था"।

भाजपा राज्यसभा सदस्य सुब्रमण्यम स्वामी

सोमवार को भोपाल में जेल से फरार हुए सिमी सदस्यों के एनकाउंटर पर कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने सवाल खड़े किए थे। उन्होंने पूछा था कि “सिमी सदस्य जेल से खुद फरार हुए थे या इसके पीछे किसी का हाथ था”। उनके इस आरोप पर भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने चुटकी लेते हुए कहा है कि लगता है दूसरी शादी के बाद दिग्विजय सिंह का मानसिक संतुलन खराब हो गया है इसलिए उनके बेफिजूल बातों पर कमेंट करना बेकार है। सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा, “दिग्विजय सिंह ने कई ऐसे बयान दिए जो गलत और हास्यास्पद हैं। उन्होंने एक बार यह भी कहा था कि आईपीएस ऑफिसर हेमंत करकरे को आरएसएस ने मारा था। दूसरी शादी के बाद लगता है उनका मानसिक संतुलन खराब हो गया है। इसलिए उनके बयान का जवाब देकर उनकी मानसिक स्थिति और बिगाड़ने का कोई तुक नहीं बनता।”

वीडियो में देखिए, भोपाल जेल से भागे सिमी के सभी 8 आतंकी मुठभेड़ में ढेर

इससे पहले कांग्रेस नेता ने जेल से सिमी सदस्यों के दूसरी बार भाग जाने को एक बडी “साजिश” बताया था। दिग्विजय सिंह ने कहा था, “यह काफी गंभीर मामला है। पहले सिमी सदस्य खांडवा की जेल से भाग गए थे। अब सिमी सदस्य भोपाल की जेल से भागे। मैं लगातार दोहराता आ रहा हूं कि देश में होने वाली सभी मुस्लिम-विरोधी गतिविधियों में आरएसएस सदस्यों और सहयोगी संगठनों का हाथ होता है। जेल से फरार होने वाले कैदियों के मामले की भी जांच होनी चाहिए कि इसके पीछे किसी का हाथ है या नहीं।”

बता दें कि सोमवार दोपहर भोपाल सेन्ट्रल जेल से फरार सिमी के सभी 8 सदस्यों को पुलिस ने एक मुठभेड़ में मार गिराया था। भोपाल के बाहरी इलाके में इंटखेडी गांव के पास पुलिस के जवानों ने सिमी के इन सदस्यों को ढेर किया था। ये सभी कैदी सोमवार तड़के ड्यूटी पर मौजूद हेड कॉन्स्टेबल को मारकर भोपाल की सेन्ट्रल जेल से फरार हो गए थे। तड़के तीन से चार बजे के बीच सिमी के आठ सिमी सदस्यों ने बैरक तोड़ने के बाद हेड कांस्टेबल रमाशंकर की हत्या कर दी। इसके बाद ओढ़ने के काम आने वाली चादर की रस्सी बनाकर आतंकी दीवार फांदकर फरार हो गए। पुलिस ने बताया कि फरार कैदियों के पास हथियार भी थे। आतंकियों की फायरिंग के बदले पुलिस ने आत्मरक्षा में फायरिंग की और क्रॉस फायरिंग में सभी फरार कैदी मारे गए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 31, 2016 6:04 pm

सबसे ज्‍यादा पढ़ी गईंं खबरें

सबरंग