December 08, 2016

ताज़ा खबर

 

दिग्विजय सिंह ने पूछा- मुस्लिम कैदी ही जेल से क्‍यों भागते हैं, हिंदू क्‍यों नहीं, एनआईए पता लगाए

कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता दिग्विजय सिंह ने भोपाल जेल से भागने वाले संदिग्‍ध सिमी आतंकियों के एनकाउंटर में मारे जाने पर एक बार फिर सवाल उठाया है।

कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह (पीटीआई फाइल फोटो)

कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता दिग्विजय सिंह ने भोपाल जेल से भागने वाले संदिग्‍ध सिमी आतंकियों के एनकाउंटर में मारे जाने पर एक बार फिर सवाल उठाया है। उन्‍होंने कहा कि केवल मुसलमान कैदी ही जेल तोड़कर क्‍यों भागते हैं, हिंदू कैदी ऐसा क्‍यों नहीं करते? उन्‍होंने नेशनल इंवेस्‍टीगेशन एजेंसी(एनआईए) से जांच की मांग दोहराते हुए कहा, ”कोर्ट को जांच पर निगरानी रखनी चाहिए। साथ ही यह भी पता लगाना चाहिए कि मुस्लिम ही जेल क्‍यों तोड़ते हैं। समस्‍या क्‍या है?” इसी बीच भाजपा एनकाउंटर के बचाव में उतर आई है। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने इस मामले में कांगेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी से सवाल पूछा है। उन्‍होंने कहा, ”मैं सोनिया गांधी से पूछना चाहता हूं कि जो कुछ दिग्विजय सिंह कह रहे हैं क्‍या वह कांग्रेस की लाइन है? इससे पहले दिग्विजय सिंह ने बाटला हाउस एनकाउंटर पर सवाल उठाए थे और सोनिया गांधी को कहना पड़ा था कि यह उनकी पार्टी की लाइन नहीं थी।” भाजपा नेता ने आगे कहा कि देश की सुरक्षा से जुड़े मुद्दों पर लोगों को एक आवाज में बोलना चाहिए।

सिमी के संदिग्‍ध आतंकियों केे एनकाउंटर का वीडियो:

केंद्रीय मंत्री वैंकेया नायडू ने भी एनकाउंटर का बचाव करते हुए कहा कि लोग सिमी आतंकियों और उनके धर्म को लेकर चिंतिंत हैं लेकिन जो डर उन्‍होंने पैदा किया उस पर चुप हैं। उन्‍होंने इस मुद्दे पर उठाए जा रहे सवालों को सस्‍ती राजनीति करार दिया। इधर, मध्‍य प्रदेश के गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि मामले में किसी जांच की जरुरत नहीं है। पुलिस ने पूरी जानकारी दे दी है। एनआईए केवल कनेक्‍शंस की जांच करेगी। उन्‍होंने कहा, ”जब भी आतंकी किसी एनकाउंटर में मारे जाते हैं तो देश में कुछ लोग हैं विशेष रूप से कांग्रेसी जो आशंका जताते हैं।”

इससे पहले मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भोपाल जेल में मारे गए हैड कांस्‍टेबल रमाशंकर यादव के घर गए। वहां उन्‍होंने यादव के परिवार के लिए 10 लाख रुपये का मुआवजा और 5 लाख रुपये बेटी की शादी के लिए देने का एलान किया। शिवराज ने कहा, ” कुछ लोग इस मामले में वोट बैंक की राजनीति कर रहे हैं जिसकी निंदा की जानी चाहिए। पीड़ा होती है। हमारे देश के कुछ नेता जिनको शहीदों की शहादत दिखाई नहीं देती उनको रमाशंकर का बलिदान दिखाई नहीं देता।”

भोपाल जेल से भागे सिमी के सभी 8 आतंकी मुठभेड़ में ढेर, देखें वीडियो:

गौरतलब है कि मारे गए हैड कांस्‍टेबल रमाशंकर यादव की छोटी बेटी की शादी दिसंबर में होने वाली थी। 57 वर्षीय यादव की कुछ साल पहले ही बाइपास सर्जरी की गई थी और वह 2 साल बाद 2019 में रिटायर होने वाले थे। रमाशंकर यादव का बेटा प्रभुनाथ यादव सेना में लांस नायक है जो हरियाणा के हिसार में तैनात है। रमाशंकर यादव का दूसरा बेटा शंभुनाथ भी सेना में है, जो असम में तैनात है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 1, 2016 1:43 pm

सबरंग