March 26, 2017

ताज़ा खबर

 

व्यापम दफ्तर पहुंच कर महिला ने निदेशक से कहा- बेटे को इंस्पेक्टर की नौकरी दिला दो, जो मांगोगे वो दूंगी

हद तो तब हो गई जब महिला ऑफिस में बात न बनता देख भास्कर के घर पहुंच गई और उनके माता-पिता से बेटे को नौकरी दिलवाने की सिफारिश करने लगी।

बता दें कि मध्यप्रदेश व्यापमं पुलिस से लेकर कई अन्य विभागों में भी खाली पड़े पदों पर लोगों की नियुक्ति करता है। जिसके लिए परीक्षा और इंटरव्यू आदि का आयोजन कर योग्य उम्मीदवार का चयन करता है।

मध्य प्रदेश में हुए व्यापम घोटाले के बारे में अमूमन सभी लोग जानते हैं। इसी घोटाला का उदाहरण देकर एक महिला रिश्वत देकर अपने बेटे की नौकरी लगवाने के लिए सीधे व्यापम दफ्तर जा पहुंची। हालांकि, मध्य प्रदेश सरकार ने व्यापम का नाम बदल दिया है और उसे व्यावसायिक परीक्षा बोर्ड (पीईबी) कर दिया गया है लेकिन अब भी लोग इस बोर्ड को वैसा ही समझते हैं। व्यापम की छवि घोटाला करने वाले बोर्ड के रूप में बन चुकी है। शायद यही वजह है कि लोग पीईबी के ऑफिस में जाकर वहां के अधिकारियों से रिश्वत लेकर नौकरी देने की बात कर रहे हैं। पीईबी के निदेशक भास्कर लक्षकर द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक एक महिला काफी दिनों से उन्हें फोन कर रही थी। महिला भास्कर से मिलना चाहती थी।

भास्कर ने जब महिला को ऑफिस मिलने के लिए बुलाया तो उसने भास्कर से कहा कि मेरे बेटे की बिना परीक्षा दिए लेबर इंस्पेक्टर के पद पर नौकरी लगवा दीजिए। इसके बाद महिला ने भास्कर से कहा कि व्यापम में तो सबकुछ होना मुमकिन है। इसके बाद उसने पूछा कि आप बताएं इसके लिए क्या करना होगा। महिला की यह बात सुनकर निदेशक भास्कर लक्षकर दंग रह गए कि महिला सामने बैठकर उन्हें रिश्वत लेकर अपने बेटे की नौकरी लगवाने की बात कर रही है। इसके बाद भास्कर ने महिला को ऑफिस से चले जाने को कह दिया। हद तो तब हो गई जब महिला ऑफिस में बात न बनता देख भास्कर के घर पहुंच गई और उनके माता-पिता से बेटे को नौकरी दिलवाने की सिफारिश करने लगी जिसके बाद भास्कर के माता-पिता ने महिला को घर से जाने के लिए कहकर इसकी जानकारी अपने बेटे भास्कर को दी।

इस मामले के बाद भास्कर ने पीईबी के सभी अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि यदि रिश्वत देकर नौकरी लगवाने के लिए कोई यहां आता है तो उसकी शिकायत तुरंत पुलिस में करें। इसके बाद उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को न तो परीक्षा में बैठने दिया जाएगा और साथ ही उनपर रिश्वत देने के आरोप में कानूनी कार्रवाई की जाएगी। गौरतलब है कि व्यापम घोटाले में कई लोगों को गिरफ्तार किया गया था। इसमें प्रदेश के शिक्षा मंत्री को भी घोटाले के आरोप में जेल की हवा खानी पड़ी थी।

देखिए वीडियो - व्यापमं घोटाला: सुप्रीम कोर्ट ने 634 मेडिकल छात्रों के दाखिले रद्द किए

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on March 6, 2017 3:17 pm

  1. No Comments.

सबसे ज्‍यादा पढ़ी गईंं खबरें

सबरंग