March 23, 2017

ताज़ा खबर

 

मध्‍य प्रदेश: पकड़ा गया RAW का फर्जी एजेंट, खुद को पीएम मोदी का सिक्‍योरिटी इंचार्ज बताकर लगाता था चूना

आरोपी ने पिछले एक महीने में 12 से ज्यादा लोगों को अपना शिकार बनाया है।

Representative Image

मध्य प्रदेश के भोपाल में एक व्यक्ति द्वारा खुद को रॉ एजेंट बताकर लोगों को धमकी देने और ठगने का मामला सामने आया है। यह व्यक्ति लोगों को अपना नाम रॉफ खान बताता है, हालंकि अभीतक इसका असली नाम नहीं पता चल पाया है। 45 वर्षीय रॉफ खान भोपाल के बाजार में घूमकर कार डीलर्स, होटल मालिकों, छोट कारोबारी और शॉरूम के मालिकों को अपना निशाना बना रहा है। वह खुद को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सिक्‍योरिटी इंचार्ज बताकर लोगों से पैसे ठगने का काम कर रहा है। रॉफ के खिलाफ गांधी नगर के कोह-ए-फिजा पुलिस थाने में जालसाजी के दो मामले दर्ज हैं।

आरोपी ने पिछले एक महीने में 12 से ज्यादा लोगों को अपना शिकार बनाया है। पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार आरोपी ने लाखों रुपए लोगों से एठे हैं। एक पीड़ित टेलर इरफान ने बताया कि जब उसकी पहली बार आरोपी से मुलाकात हुई थी तो उसने खुद को रॉ का एजेंट बताया जिससे इरफान काफी प्रभावित हो गया था। इरफान ने बताया कि एक दिन रॉफ उसकी दुकान पर आया और कुछ सिले हुए कपड़े लिए जिसके लिए उसने 15,000 रुपए भुगतान किया। इसके बाद उसने जाते हए इरफान से कहा एक रॉ एजेंट उसकी दुकान पर कपड़े सिलवाने के लिए आएगा जिसका भुगतान वह करेगा। इरफान ने कहा कि उसके जाने के बाद 7 लोग मेरी दुकान पर कपड़े सिलवाने के लिए आए। रॉफ ने इस काम के लिए मुझे 85 हजार रुपए का चेक दिया जो कि कुछ समय बाद ही बाउंस हो गया और इसके बाद रॉफ यहां कभी दिखाई नहीं दिया। वहीं इरफान के जैसे और भी कई ऐसे लोग हैं जिनसे रॉफ ने रॉ एजेंट बन लाखों की ठगी की है।

वहीं एक मेटल कारोबारी बुराहानु्द्दीन मोहम्मद से आरोपी ने 9 लाख रुपए की ठगी की, एक होटल कर्मचारी परिक्षित सिंह और उसके दोस्तों को रॉफ ने 15 रुपए का चूना लगाया। फिलहाल पुलिस ने केस दर्ज रॉफ की तलाश शुरु कर दी है। पुलिस उसे और उसके साथियों को ढूंढने के लिए जगह-जगह दाबिश दे रही है।

देखिए वीडियो - मध्य प्रदेश: महिला IAS से खनन माफिया ने की अभद्रता

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on March 7, 2017 6:31 pm

  1. No Comments.

सबसे ज्‍यादा पढ़ी गईंं खबरें

सबरंग