March 28, 2017

ताज़ा खबर

 

बलात्कार पीड़ित दलित नाबालिग लड़की ने रेपिस्ट के जेल से छूटने पर डर से खुद को लगाई आग, 40% जली 

नाबालिग पीड़िता ने बुधवार को जब सुना कि उसका दुष्कर्म करनेवाला जेल से छूटकर आ गया है तो उसने उसके डर से अपने ऊपर किरोसिन तेल छिड़क लिया और आग लगा ली।

पीड़िता जब सुना कि आरोपी जेल से आ गया है तो उसने डर से किरोसिन तेल छिड़ककर आग लगा ली। (फोटो-ANI)

दुष्कर्म पीड़ित दलित नाबालिग ने आरोपी के जेल से छूटने के बाद उसके डर से खुद को आग लगाकर खुदकुशी करने की कोशिश की है। हालांकि, उसे बचा लिया गया। वो फिलहाल अस्पताल में भर्ती है, जहां उसका इलाज चल रहा है। नाबालिग पीड़िता ने बुधवार को जब सुना कि उसका दुष्कर्म करनेवाला जेल से छूटकर आ गया है तो उसने उसके डर से अपने ऊपर किरोसिन तेल छिड़क लिया और आग लगा ली। मामला मध्य प्रदेश के इटारसी जिले के नया गांव का है। समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए इटारसी के एसडीपीओ अनिल शर्मा ने कहा, “पीड़ित लड़की के शरीर का 40 फीसदी हिस्सा जल गया है। हालांकि वह खतरे से बाहर है।”

पीड़ित के पिता ने कहा कि उसने डर की वजह से ऐसा किया है। उन्होंने कहा, “इस साल 16 फरवरी को उसके साथ दुष्कर्म हुआ था। बलात्कार के आरोपियों में से एक अभी हाल ही में जेल से छूटकर आया है, इसलिए उसे डर समा गया कि वो उसे मार देगा।” हालांकि, मामले का मुख्य आरोपी अभी भी जेल में बंद है जबकि ये आरोपी दो महीने पहले ही जेल से छूट चुका था।

इधर, पुलिस का मानना है कि पीड़ित लड़की की दिमागी स्थिति अच्छी नहीं है और शायद इसीलिए उसने डर से खुदकुशी की कोशिश की है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि घटना के तुरंत बाद मामले में आईपीसी एक्ट और एससी/एसटी एक्ट के तहत आरोपियों की गिरफ्तारी कर लगी गई थी. फिलहाल मामले की तहकीकात चल रही है।

Read Also-गुजरात हाईकोर्ट ने पिता की एक ना सुनी, कहा-हर महीने नाबालिग बेटी को दो 250 रूपये

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 13, 2016 5:11 pm

  1. No Comments.

सबरंग