December 04, 2016

ताज़ा खबर

 

नोटबंदी: टूटने के कगार पर शादी, कार्ड दिखाने के बावजूद बैंक मैनेजर ने कहा- नहीं दे सकते ढाई लाख रुपए

बैंकों का कहना है कि उन्हें इस नियम को लेकर आरबीआई से अभी तक कोई दिशा-निर्देश नहीं मिले हैं।

भावना की शादी 2 दिन बाद होने वाली है। (फोटो- राजेश चौरसिया)

कीर्ति राजेश चौरसिया

मध्य प्रदेश में बैंक से कैश नहीं मिलने की वजह से एक लड़की की शादी नहीं हो पा रही है। हालात यहां तक बने हुए हैं कि शादी टूटने की कगार तक पहुंच गई है। घर में लड़की और उसके माता-पिता का रो-रो कर बुरा हाल है। मामला छतरपुर जिले के मजोटा गांव की है। गोविन्द दास तिवारी की बेटी भावना की शादी सौरभ से 2 दिन बाद 21 नवम्बर को होनी है। शादी की सारी तैयारियां हो चुकी हैं। मेहमान भी घर आ चुके हैं। लेकिन बैंक से पैसे नहीं मिलने की वजह से घर वाले काफी परेशान हैं। पेशे से किशान गोविन्द दास तिवारी ने बेटी की शादी के लिए ढाई लाख रुपए जोड़कर बैंक में जमा कराए थे। लेकिन दास जब पैसा निकालने बैंक पहुंचे तो बैंक मैनेजर ने इतनी बढ़ी रकम देने से मना कर दिया।

मध्यांचल ग्रामीण बैंक के मैनेजर के.सी. अग्रवाल का कहना है कि गोविन्द दास के 2,44,731 रुपए हमारे बैंक में जमा हैं। लेकिन नोटबंदी के चलते हम महज और अधिकतम 20,000 (बीस हजार) ही दे सकते हैं। गोविंद 2,40,000 (दो लाख चालीस हजार) रुपये मांग रहे हैं जो कि हम नहीं दे सकते।’ साथ ही मैनेजर ने बताया कि इस तरह का कोई नियम या आदेश हमारे पास नहीं है, जिसके तहत शादी के लिए कोई पिता ढाई लाख रुपए तक नहीं निकाल सकता है। जो भी है सब अफवाह है लिखित में कोई आदेश नहीं है। जब जिला कलेक्टर रमेश भंडारी से फोन से संपर्क किया गया तो उन्होंने मुख्यालय से बाहर होने की बात कही।

भावना ने बताया, ‘पापा ने मेरी शादी के लिए पैसे जमा किए थे, लेकिन बैंक से वो मिल नहीं रहे। पापा रोजाना बैंक जाते हैं, लेकिन खाली हाथ लौट आते हैं। घर में मम्म-पापा सब परेशान हैं। शादी के लिए जो रुपए जमा किए गए थे, वो तो मिलने चाहिए। पापा ने बड़ी मेहनत करके 2.40 हजार रुपए बैंक में जमा किए थे। बैंक वाले बोल रहे हैं कि इतने बड़ी रकम बैंक से निकालने का कोई नियम नहीं है। मेहमान आ चुके हैं। दो दिन बाद शादी है। सामान खरीदना है। पैसे के बिना कुछ नहीं हो सकता।’

परिवार की महिलाओं के साथ भावना। ( फोटो- राजेश चौरसिया) परिवार की महिलाओं के साथ भावना। ( फोटो- राजेश चौरसिया)

वहीं बैंकों का कहना है कि उन्हें भारतीय रिजर्व बैंक से अभी तक कोई निर्देश नहीं मिले हैं। साथ ही बैंकों को कहना है कि हो सकता है कि हमें सोमवार या मंगलवार तक आरबीआई की ऑपरेशनल गाइडलाइंस मिल जाएं, उसके बाद हम लोग इसके तहत लोगों को कैश दे पाएंगे। पंजाब नेशनल बैंक की मैनेजिंग डायरेक्टर ऊषा अनंत सुब्रमण्यम ने कहा, ‘हमें आरबीआई की तरफ से कोई ऑपरेशनल गाइडलाइंस नहीं मिली हैं, ऐसे में हम लोग शादी के लिए 2.5 लाख रुपए देने में असमर्थ हैं। हम लोगों आरबीआई के निर्देशों का इंतजार कर रहे हैं।’

बात करते हुए भावुक हुईं भावना। (फोटो- राजेश चौरसिया) बात करते हुए भावुक हुईं भावना। (फोटो- राजेश चौरसिया)

बता दें, गुरुवार को आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा था कि सरकार ने शादियों के जारी मौसम को देखते हुए दूल्हा, दुल्हन या उनके माता-पिता को बैंक खाते से ढाई लाख रुपए तक नकदी निकासी की अनुमति दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्तमंत्री से शादी इत्यादि के लिए नकदी निकासी के नियमों को आसान बनाने की मनुहार की गई है। दास ने कहा कि इसलिए शादियों के लिए नकदी निकासी सीमा को आसान बनाया गया है, जिस बैंक खाते से उन्हें नकदी का आहरण करना है उसकी केवाईसी (अपने ग्राहक को पहचानो) नियमों की प्रक्रिया पूरी होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि ढाई लाख रुपए केवल एक खाते से निकाले जा सकते हैं।

भावना की शादी का कार्ड। (फोटो- राजेश चौरसिया) भावना की शादी का कार्ड। (फोटो- राजेश चौरसिया)

वीडियो में देखें- होने वाली दुल्हन क्या कह रही हैं।

वीडियो में देखें- ₹ 2000 और 500 के नए नोट में चलता है PM मोदी का भाषण !

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 19, 2016 7:59 pm

सबरंग