January 17, 2017

ताज़ा खबर

 

उद्धव के वाराणसी दौरे को लेकर सियासी हलचल तेज

अपनी सहयोगी पार्टी भाजपा के साथ रिश्तों में बर्फ जमने के साथ शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे जल्द ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी का दौरा करेंगे।

अपनी सहयोगी पार्टी भाजपा के साथ रिश्तों में बर्फ जमने के साथ शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे जल्द ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी का दौरा करेंगे। ऐसे साफ संकेत हैं कि पार्टी उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाला विधानसभा चुनाव लड़ेगी। हालांकि उद्धव मुख्य रूप से गंगा आरती करने के लिए वाराणसी जाएंगे। फिर भी इस कदम को उनके चुनाव में दावेदारी पेश करने से पहले प्रमुख हिंदी भाषी राज्य में राजनीतिक आबोहवा का जायजा लेने की कोशिश समझा जा रहा है। शिवेसना नेता संजय राउत ने पुष्टि की कि उद्धव वाराणसी जाएंगे लेकिन कब जाएंगे, इसका खुलासा नहीं किया। पार्टी के सूत्रों के अनुसार भाजपा के बाद राजग में शामिल सबसे बड़े दल की योजना राज्य की 403 में से करीब 200 सीटों पर चुनाव लड़ने की है। इससे चुनाव में भाजपा की संभावनाएं पर प्रतिकूल असर पड़ सकता है।

जिसके नियंत्रण रेखा पर सेना के लक्षित हमले के बाद देशभक्ति की भावनाओं का दोहन करने की संभावना है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी दो अगस्त को वाराणसी में एक बड़ा रोड शो आयोजित कर अपनी पार्टी के चुनाव अभियान की शुरुआत की थी। उत्तर प्रदेश में शिवसेना के पार्टी प्रभारी राउत ने पत्रकारों से कहा कि भाजपा, बसपा, सपा और कांग्रेस सहित सभी बड़ी पार्टियों के नेता शिवसेना के संपर्क में हैं जो इस बार चुनाव में काफी रुचि ले रही है। राज्यसभा के सदस्य राउत ने इस बात को खारिज कर दिया कि शिवसेना उत्तर प्रदेश चुनाव में इस वजह से रुचि ले रही है क्योंकि उसने मुंबई का नगरपालिका चुनाव अकेले लड़ने की भाजपा के स्थानीय नेताओं की धमकी के बाद जैसे को तैसा की नीति अपनाई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 17, 2016 1:16 am

सबरंग