ताज़ा खबर
 

विमान यात्री किराए में वृद्धि के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की विपक्ष ने

तृणमूल के सौगत राय ने सरकार से विमान यात्री किराए में कमी लाने के लिए कदम उठाने की मांग की।
लोकसभा की कार्यवाही। (PTI Photo)

विमान यात्री किराए में वृद्धि के खिलाफ सरकार से सख्त कार्रवाई करने की मांग करते हुए विपक्षी दलों ने सोमवार को कहा कि विमानन कंपनियां यात्रियों को लूट रही हैं। वे विमान ईंधन की कीमत घटने के बावजूद यात्री किराया बढ़ा रही हैं। विपक्षी दलों ने लोकसभा में कहा कि हाल के समय में विमान ईंधन की कीमत घटने के बावजूद यात्री किराए में वृद्धि पर विभिन्न वर्गों ने चिंता जताई है। जबकि विमानन कंपनियों के परिचालन लागत में ईंधन का 40 फीसद हिस्सा बनता है।

नागर विमानन मंत्रालय और पर्यटन मंत्रालय से जुड़ी 2016-17 की अनुदान मांगों पर चर्चा के दौरान लोकसभा में कांग्रेस के केसी वेणुगोपाल ने कहा कि निजी एअरलाइन ईंधन की कीमतों में कमी का लाभ यात्रियों को नहीं दे रही हैं। इससे एअरलाइनों को काफी लाभ हो रहा है। उन्होंने दावा किया कि एअर इंडिया को विमान ईंधन की कीमतों में कमी के कारण एक हजार करोड़ से अधिक का फायदा हुआ है। उन्होंने पूछा कि सरकार लोगों को न्याय दिलाने के लिए क्या कदम उठा रही है?

तृणमूल के सौगत राय ने सरकार से विमान यात्री किराए में कमी लाने के लिए कदम उठाने की मांग की। उन्होंने कहा कि इस विषय पर कुछ नियमन होना चाहिए। उन्होंने कहा कि छुट्टियों और त्योहार के मौकों पर भी विमान किराया काफी बढ़ जाता है। वेणुगोपाल ने कहा कि विमान यात्री किराए में काफी वृद्धि हो रही है और सरकार ने कीमतों के संबंध में हस्तक्षेप नहीं करने की नीति अपनाई है। क्या यह सही है। हम इस पर नैसर्गिक न्याय चाहते हैं। उन्होंने एअर इंडिया को बजटीय आबंटन में कमी की भी आलोचना की और कहा कि इससे विमानन कंपनी को समस्या पेश आएगी। वेणुगोपाल ने केंद्र से केरल सरकार के उस प्रस्ताव को तेजी से आगे बढ़ाने को कहा जिसमें एअर केरल पेश किए जाने की बात कही गई है।

भाजपा के दुष्यंत सिंह ने एअर इंडिया के समक्ष पेश आ रही समस्याओं के लिए पूर्ववर्ती यूपीए सरकार को जिम्मेदार बताया। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती सरकार के समय बाजार हिस्सेदारी में कमी आने के बावजूद एअर इंडिया ने नए विमान के लिए आर्डर दिया। अधिकार संपन्न मंत्रियों के समूह ने तत्कालीन केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम के तहत नए विमानों के आर्डर को आगे बढ़ाने को मंजूरी दी। सिंह ने पूर्व यूपीए सरकार के दौरान इंडियन एअरलाइंस और एअर इंडिया का विलय किए जाने पर चुटकी लेते हुए कहा कि अब एअर इंडिया को मासिक परिचालन लाभ मिलना शुरू हुआ है।

भाजपा सदस्य ने कहा कि सरकार विमानन क्षेत्र के उन्नयन के लिए विभिन्न योजनाओं पर काम कर रही है जिसमें क्षेत्रीय संपर्क बढ़ाना शामिल है। पर्यटन क्षेत्र के बारे में सिंह ने कहा कि केंद्र में सरकार में बदलाव आने से हालात बेहतर बनाने में मदद मिली है। सरकार ने पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए कई कदम उठाए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.