ताज़ा खबर
 

लांस नायक सुसाइड केस: स्टिंग करने वाली रिपोर्टर पर हुआ पुलिस केस दर्ज, भारतीय सेना ने दर्ज कराई शिकायत

भारतीय सेना की तरफ से कहा गया है कि पूनम अग्रवाल ने बिना परमिशन के आर्मी कैंप में घुस कर चोरी से वीडियो बनाया था।
भारतीय सेना के दिवंगत लांस नायक रॉय मैथ्यू।

भारतीय सेना में सहायक सिस्टम पर सवाल उठाने वाले दिवंगत लांस नायक रॉय मैथ्यू के आत्महत्या करने के लगभग एक महीने बाद पत्रकार पूनम अग्रवाल पर आपराधिक केस दर्ज हो गया है। न्यूज वेबसाइट The Quint की पत्रकार पूनम अग्रवाल ने लांस नायक रॉय का इंटरव्यू किया था जिसके सामने आने के बाद रॉय ने आत्महत्या कर ली थी। भारतीय सेना की तरफ से नाशिक पुलिस में ये शिकायत दर्ज कराई गई है। शिकायत पत्र में भारतीय सेना की तरफ से कहा गया है कि पूनम अग्रवाल ने बिना परमिशन के आर्मी कैंप में घुस कर चोरी से वीडियो बनाया था। पूनम पर आर्मी ने ये आरोप भी लगाए हैं कि पूनम ने जानबूझकर रॉय मैथ्यू से उसे उलझाने वाले सवाल पूछे जिसके चलते वह आत्महत्या करने पर मजबूर हो गया। नाशिक पुलिस ने ऑफिशियल सीक्रेट्स एक्ट, अवैध तरीके से घुसपैठ और आत्महत्या के लिए मजबूर करने के तहत मामला दर्ज किया है।

नाशिक पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि आर्मी की तरफ से जो शिकायत पत्र दिया गया है उसमें लिखा गया है कि पूनम अग्रवाल जासूसी कैमरे के साथ आर्मी के देवलाली कैंप में बिना किसी परमिशन के दाखिल हुई थीं। साथ ही उन्होंने वहां सैनिकों से बातचीत की और जासूसी कैमरे से शूटिंग की। पुलिस ने इस मामले में पूनम अग्रवाल से भी पूछताछ की है।

सूत्रों के मुताबिक पूनम ने अपना पक्ष रखते हुए पुलिस को ऐसे कुछ आर्मी ऑफीशियल्स के नाम सौंपे हैं जिन्होंने देवलाली कैंटोनमेंट के अंदर प्रवेश करने में उनकी मदद की थी। पूनम ने जो वीडियो कैंप के अंदर शूट किया था उसकी मूल कॉपी पुलिस ने अपने पास ले ली है। इस वीडियो को द क्वींट ने अपनी वेबसाइट से हटा लिया था।

पुलिस ने बताया कि पूनम ने उन सारी बातों को सिलसिलेवार तरीके से हमें बताया जो उस स्टिंग ऑपरेशन के दौरान घटी थी। पूनम ने रॉय मैथ्यू के अलावा उन सब जवानों के साथ बातचीत का ब्यौरा भी पुलिस को सौंपा जिनसे इस बुद्दे पर बात हुई थी।

आर्मी के आरोपों से घिरी पूनम अग्रवाल ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि जब मेरा ये स्टिंग वेबसाइट पर पब्लिश हुआ था तब मैंने आर्मी के साथ भी इसका लिंक शेयर किया था। तब तो आर्मी ने कहा था कि इस वीडियो में जवान द्वारा लगाए गए सभी आरोपों की जांच होगी। तब आर्मी ने किसी तरह से घुसपैठ की बात नहीं की थी। लांस नायक रॉय मैथ्यू के आत्महत्या करने पर पूनम ने कहा कि उसने आर्मी की विभागीय जांच से तंग आकर ये कदम उठाया था।

आपको बता दें कि इस स्टिंग वीडियो के मीडिया में आने के बाद 25 फरवरी को लांस नायक रॉय मैथ्यू ने आत्महत्या कर ली थी। सुसाइड स्पॉट से पुलिस ने मैथ्यू का लिखा एक नोट भी बरामद किया था जिसमें उसने आर्मी पर सवाल उठाने के लिए कोर्ट मार्शल होने की आशंका जाहीर की थी।

VIDEO: BSF जवान तेज बहादुर यादव की पत्नी का दावा- “पति पर डाला रिटायरमेंट का दबाव, बाद में किया गिरफ्तार”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.