ताज़ा खबर
 

सबरीमाला मंदिर में नहीं जाने देंगे भूमाता ब्रिगेड को : केरल सरकार

केरल सरकार ने सोमवार को कहा कि भूमाता ब्रिगेड की प्रमुख तृप्ति देसाई को यहां के भगवान अयप्पा मंदिर में प्रवेश की इजाजत नहीं दी जाएगी। देसाई की योजना 100 महिलाओं को लेकर सबरीमाला के इस मंदिर में जाने की है। मंदिर में 10 से 50 वर्ष आयु वर्ग की लड़कियों और महिलाओं के प्रवेश […]
Author सबरीमाला (केरल) | December 27, 2016 04:20 am
भूमाता रणरागिनी ब्रिगेड की अध्‍यक्ष तृप्ति देसाई।

केरल सरकार ने सोमवार को कहा कि भूमाता ब्रिगेड की प्रमुख तृप्ति देसाई को यहां के भगवान अयप्पा मंदिर में प्रवेश की इजाजत नहीं दी जाएगी। देसाई की योजना 100 महिलाओं को लेकर सबरीमाला के इस मंदिर में जाने की है। मंदिर में 10 से 50 वर्ष आयु वर्ग की लड़कियों और महिलाओं के प्रवेश पर पाबंदी है।

देवस्वम मंत्री कड़कमपल्ली सुरेंद्रन ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘सबरीमाला मंदिर का प्रशासन त्रावणकोर देवस्वम बोर्ड (टीडीपी) के हाथ में है और इसकी परंपराएं व नियम हर किसी पर लागू होते हैं।’ उन्होंने कहा कि सभी आयु वर्ग की महिलाओं के प्रवेश का मामला सुप्रीम कोर्ट में पहले से चल रहा है। सुप्रीम कोर्ट के फैसले से पहले परंपराओं और रीति रिवाजों में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा। माकपा के नेतृत्व वाली एलडीएफ सरकार ने पिछले महीने सुप्रीम कोर्ट में दायर किए हलफनामे में कहा था वह सबरीमाला मंदिर में सभी आयु वर्ग की महिलाओं के प्रवेश के पक्ष में है। तृप्ति देसाई ने हाल ही में कहा था कि वह 100 महिला कार्यकर्ताओं के साथ भगवान अयप्पा के मंदिर में जाएंगी। इससे पहले तृप्ति शनि शिंगणापुर, त्रयम्बकेश्वर मंदिर और हाजी अली दरगाह में महिलाओं के प्रवेश के लिए आंदोलन कर चुकी हैं।

 

नेशनल हेराल्ड केस: सोनिया- राहुल को बड़ी राहत, स्वामी की अर्जी खारिज

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग