ताज़ा खबर
 

केरल: मेडिकल कॉलेज के मालिक का दावा- बीजेपी नेता ने MCI से मान्यता दिलाने के लिए की 17 करोड़ की डिमांड

आरएस विनोद ने एक मेडिकल कॉलेज के मालिक से कथित तौर पर 5 करोड़ 60 लाख रुपये की घूल लेकर उन्हें मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (एमसीआई) से मान्यता दिलाने का वादा किया।
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

केरल बीजेपी अध्यक्ष कुम्मनम राजशेखरन के निर्देश के बाद पार्टी ने अपने ही एक नेता के कथित भ्रष्टाचार के मामले की जांच की। पार्टी द्वारा गठित जांच कमेटी ने यह पाया कि बीजेपी नेता आरएस विनोद ने एक मेडिकल कॉलेज के मालिक से कथित तौर पर 5 करोड़ 60 लाख रुपये की घूस लेकर उन्हें मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (एमसीआई) से मान्यता दिलाने का वादा किया था। दो वरिष्ठ सदस्यों की कमेटी के मुताबिक, विनोद ने इस मामले में पैसे लेने की बात कुबूल भी की है लेकिन उसका कहना है कि यह रकम कारोबारी मकसद से ली गई थी। एस आर एजुकेशनल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट के चेयरमैन आर शाहजी ने मई महीने में विनोद को यह रकम देने की बात पार्टी को बताई है। रिपोर्ट्स के मुताबिक विनोद ने यह रकम दिल्ली में एक दलाल को हवाला के जरिए भेजी।

पार्टी कमेटी की जांच में शाहजी ने दावा किया है कि विनोद ने उन्हें दिल्ली के उस दलाल के बारे बताते हुए कहा था कि वह एमसीआई को प्रभावित कर उनके कॉलेज के लिए मान्यता दिला सकता है, क्योंकि ऐसा काम वह पहले भी कर चुका है। शाहजी के मुताबिक राकेश श्रीवास्तव नाम के एक शख्स, जिसने खुद को बीजेपी राज्य अध्यक्ष का निजी सचिव बताया था, उसने कथित तौर पर दलाल की मुलाकात विनोद के जरिए उनसे (शाहजी) करवाई थी। शाहजी ने कमेटी को यह भी बताया कि एमसीआई से मान्यता दिलाने के लिए विनोद ने कुल 17 करोड़ रुपये की डिमांड की थी। शाहजी के मुताबिक, पैसे देने के बाद भी एमसीआई के कॉलेज का मुआयना करने बाद उन्हें मान्यता नहीं दी गई।

वहीं कमेटी ने अपनी जांच में कहा है कि विनोद ने शाहजी से पैसे लेने की बात कुबूल की है लेकिन उनके मुताबिक यह रकम कारोबारी मकसद से ली गई थी। पार्टी ने अपनी जांच में 6 लोगों से पूछताछ की है जो इस कथित भ्रष्टाचार के मामले में संलिप्त है। कमेटी की रिपोर्ट में राज्य के महासचिव एम टी रमेश का भी नाम है। इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में रमेश ने कहा कि उन्होंने किसी से भी पैसे नहीं लिए। पार्टी ने अपनी जांच में कार्रवाई करने की बात कही है। विनोद राज्य में पार्टी की कॉपरेटिव सेल के संयोजक हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. S
    suresh k
    Jul 20, 2017 at 10:54 am
    भाजपा के नेताओ के लिए नए बात नहीं है कांगेस भी ऐसी है . जनता का मरना है कहा जाए लालू मुलायम ममता माया सब एक जैसे ................... मोदी जी १०० ईमानदार . ..... पूरे देश के बईमानों के लिए ही नोट बंदी , GST , और बेनामी , इसी लिए सारे चोर मोदी के विरोधी , मीडिया के चोर भी .
    (0)(0)
    Reply
    सबरंग