ताज़ा खबर
 

पिता का आरोप अस्पताल की लापरवाही से बेटी को हुआ HIV, केरल सरकार ने दिए जांच के आदेश

पीड़िता के ब्लड सैंपल्स को 9 सितंबर को मुंबई लैब जांच के लिए भेजा गया जहां पर रिपोर्ट में एचआईवी पॉजिटिव आया।
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है। (Source: Express Archives)

तिरुवंतपुरम के एक सरकारी अस्पताल में एक बहुत बड़ी लापरवाही का मामला सामने आया है। एक पिता ने आरोप लगाया है कि उसकी 9 वर्षीय बेटी ब्लड कैंसर से पीड़ित है लेकिन ब्लड ट्रांसफ्यूज़न के बाद जब उसका मेडिकल टेस्ट किया गया तो वह एचआईवी पॉजिटिव पाई गई। यह मामला रीज़नल कैंसर सेंटर का है। इस मामले की शिकायत पुलिस थाने में 10 सितंबर को दर्ज कराई गई थी। एक पुलिस अधिकारी द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार मार्च में शुरु हुई कीमोथैरेपी से  पहले पीड़िता का जब एचआईवी टेस्ट किया गया था तो उसकी रिपोर्ट नेगेटिव आई थी। चार महीने इलाज के दौरान उसको कई बार ब्लड के इंजेक्शन लगाए गए थे जो इलाज का हिस्सा थे।

पीड़िता के ब्लड सैंपल्स को 9 सितंबर को मुंबई लैब जांच के लिए भेजा गया जहां पर रिपोर्ट में एचआईवी पॉजिटिव आया। वहीं इस मामले के सामने आने के बाद केरल सरकार ने आज यानि 15 सितंबर को विशेषज्ञों की एक टीम का गठन कर इस मामले की जांच के आदेश दिए हैं। पीड़ित बच्ची के पिता की शिकायत पर गंभीरता से विचार करते हुए, स्वास्थ्य मंत्री के.के.शैलेजा ने मामले की जांच के लिए चिकित्सा शिक्षा की संयुक्त निदेशक (डीएमई) डॉ श्रीकुमारी की अध्यक्षता में एक पैनल के गठन का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि समिति को तत्काल जांच के बाद एक रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा गया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि बच्ची के आगे के इलाज का सारा खर्च सरकार उठाएगी।

पुलिस के मुताबिक, बच्ची का इलाज अलापुझा मेडिकल कॉलेज में चल रहा था जहां से उसे आगे के इलाज के लिए आरसीसी भेजा गया। यहां चिकित्सकों ने उसकी विभिन्न जांच करवाई जिसमें खून की जांच भी शामिल थी जिससे पता चला कि वह एचआईवी पॉजिटिव है। सरकार द्वारा चलाए जा रहा यह सेंटर केरल का सबसे बड़ा कैंसर सेंटर है। यह सेंटर एक दिन में करीब 750 कैंसर पीड़ितों की जांच करता है, जिनमें से 70 प्रतिशत मरीजों का मुफ्त में इलाज किया जाता हैं।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग